शुक्रवार, सितम्बर 25, 2020
होम ताज़ा ख़बर सदस्यों का हमारी नीयत पर शक करना निराशाजनक : बीडब्ल्यूएफ

सदस्यों का हमारी नीयत पर शक करना निराशाजनक : बीडब्ल्यूएफ

विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने कहा कि कोविड-19 महामारी के खतरे के बावजूद आल इंग्लैंड चैंपियनशिप आयोजित करवाने के फैसले को लेकर कुछ खिलाड़ियों का उनकी नीयत पर सवाल उठाना निराशाजनक है। बीडब्ल्यूएफ का कोविड-19 के बावजूद इस सुपर 1000 टूर्नामेंट का आयोजन करना कुछ खिलाड़ियों को नागवार गुजरा और उन्होंने विश्व बैडमिंटन संस्था की कड़ी आलोचना की थी। इनमें भारतीय शटलर साइना नेहवाल भी थी।

खिलाड़ियों ने बीडब्ल्यूएफ की इस घातक बीमारी से हल्के से लेने और टूर्नामेंट जारी रखकर उनकी जान खतरे में डालने के लिये आलोचना की थी। बीडब्ल्यूएफ के महासचिव थामस लुंड ने एक खुले पत्र में कहा कि आल इंग्लैंड चैंपियनशिप का आयोजन करने का फैसला उस समय मिली सलाह के आधार पर किया गया। उन्होंने लिखा, ‘‘यह निराशाजनक है कि बैडमिंटन समुदाय के कुछ सदस्यों ने संकट के इस समय में बीडब्ल्यूएफ की नीयत को लेकर अटकल लगायी। हमारी हमेशा पहली चिंता भागीदारों का स्वास्थ्य और सुरक्षा रही है। ’’

कोरोनावायरस के प्रकोप के बीच ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप को जारी रखा गया था, जिस पर साइना ने सवाल खड़े किये हैं। ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना ने डेनमार्क के एक खिलाड़ी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए टूर्नामेंट के आयोजन पर आश्चर्य जताया। भारतीय स्टार शटलर साइना ने ट्वीट कर कहा, “मैं सिर्फ एक बात सोच सकती हूं कि खिलाड़ियों की सुरक्षा और भावनाओं के बजाय वित्तीय हितों को अधिक तवज्जो दी गई। इसके अलावा पिछले सप्ताह ऑल इंग्लैंड ओपन 2020 को जारी रखने का कोई अन्य कारण नहीं था।”

यह भी पढ़ें: पी कश्यप ने आईओसी पर कसा तंज, पूछा क्या आप मजाक कर रहे हो

यह भी पढ़ें: साइना नेहवला का खेल प्रशासकों पर बड़ा आरोप, कहा खिलाड़ियों की सुरक्षा से किया गया समझौता