शुक्रवार, सितम्बर 25, 2020
होम ताज़ा ख़बर साइना नेहवाल का बड़ा आरोप, कहा खिलाड़ियों की सुरक्षा से किया गया...

साइना नेहवाल का बड़ा आरोप, कहा खिलाड़ियों की सुरक्षा से किया गया समझौता

भारतीय बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल ने खेल प्रशासकों पर बड़ा आरोप लगाया है। कोरोनावायरस के प्रकोप के बीच ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप को जारी रखा गया था, जिस पर साइना ने सवाल खड़े किये हैं। गौरतलब है कि साइना ने इस प्रतियोगिता में निराशाजनक प्रदर्शन किया था और पहले दौर में हारकर बाहर हो गई थी।

ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना ने डेनमार्क के एक खिलाड़ी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए टूर्नामेंट के आयोजन पर आश्चर्य जताया। भारतीय स्टार शटलर साइना ने ट्वीट कर कहा, “मैं सिर्फ एक बात सोच सकती हूं कि खिलाड़ियों की सुरक्षा और भावनाओं के बजाय वित्तीय हितों को अधिक तवज्जो दी गई। इसके अलावा पिछले सप्ताह ऑल इंग्लैंड ओपन 2020 को जारी रखने का कोई अन्य कारण नहीं था।”

 

30 वर्षीय खिलाड़ी इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के पहले दौर में हारकर बाहर हो गईं थी। कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में कई खेल प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी गई थी लेकिन ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन टूर्नामेंट को जारी रखा गया था। इस टूर्नामेंट के समाप्त होने के बाद विश्व बैडमिंटन महासंघ ने अपनी सभी प्रतियोगिताओं पर रोक लगा दी थी। बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के कई मामले सामने आये हैं और इसीलिए साइना नेहवाल ने ऑल इंग्लैंड टूर्नामेंट को जारी रखने के फैसले पर सवाल खड़े किए हैं।

यह भी पढ़ें : कोरोना वायरस के कारण आल इंग्लैंड चैम्पियनशिप से कुछ भारतीय खिलाड़ियों ने हटने का फैसला किया

इससे पहले कोरोनावायरस के प्रकोप के कारण चिराग शेट्टी और सत्विकसाईराज रंकीरेड्डी की शीर्ष युगल जोड़ी के अलावा मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी, एच एस प्रणय, समीर वर्मा और सौरभ वर्मा ने हटने का फैसला किया था। दूसरी तरफ साइना नेहवाल, पीवी सिंधू, किदाम्बी श्रीकांत, अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी और प्रणव जेरी चोपड़ा ने टूर्नामेंट में भाग लिया था।