बुधवार, सितम्बर 30, 2020
होम ताज़ा ख़बर COVID-19: लॉकडाउन में ब्रेक को मजबूर तैराक श्रीहरि नटराज, दशक में पहली...

COVID-19: लॉकडाउन में ब्रेक को मजबूर तैराक श्रीहरि नटराज, दशक में पहली बार लिया ब्रेक

राष्ट्रीय रिकार्डधारी तैराक श्रीहरि नटराज कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन के कारण एक दशक के लंबे करियर में पहली बार इतने लंबे समय तक तरणताल से दूर हुए हैं और उनका कहना है कि उन्होंने बोरियत को दूर करने के लिये कुछ तरीके भी ढूंढ लिये हैं। कोविड-19 महामारी से निपटने के लिये भारत सहित कई देशों ने लॉकडाउन करने का फैसला किया जिससे दुनिया भर में 82,000 लोगों की मौत हो चुकी है और सभी खेल गतिविधियां बंद हो गयी हैं।

श्रीहरि ने बेंगलुरू से पीटीआई से कहा, ‘‘मेरे घर में तरणताल नहीं है इसलिये मैं तीन हफ्ते से तैर नहीं पाया हूं। पिछले 10 साल में तरणताल से पहली बार इतने लंबे समय के लिये बाहर हुआ हूं। यह 10 साल में मेरा पहला ब्रेक है।’’ श्रीहरि ने पिछले साल ओलंपिक के लिये 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धा में बी क्वालीफिकेशन मार्क हासिल किया था। उन्होंने हंगरी के बुडापेस्ट में विश्व जूनियर चैम्पियनिशिप के सेमीफाइनल में 54.69 सेकेंड के राष्ट्रीय रिकार्ड से यह मार्क प्राप्त किया था। हालांकि ओलंपिक में स्थान सुनिश्चित करने के लिये श्रीहरि को 53.85 सेकेंड का क्वालीफिकेशन मार्क हासिल करना होगा।

इस ब्रेक के बारे में बात करते हुए कहा, ‘‘पहला दिन काफी मुश्किल था। मैं ट्रेनिंग नहीं करने का आदी नहीं हूं। मैंने घर पर अभ्यास करना शुरू किया ताकि खुद को फिट रख सकूं।”  उन्होंने कहा, ‘‘अब मैंने कुछ और चीजों को भी करना शुरू कर दिया है ताकि बोरियत दूर की जा सके। मैं बहुत सारी सीरीज और फिल्में देखने के अलावा किताबें पढ़ रहा हूं। साथ ही काफी सो रहा हूं, ताकि शरीर को आराम मिल सके। ’’

यह भी पढ़ें: टोक्यो खेलों के स्थगन से दीपा करमाकर की ओलंपिक की उम्मीद जगी