शुक्रवार, अक्टूबर 30, 2020
होम कुश्ती वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भारत के ऐतिहासिक प्रदर्शन के बावजूद ईरानी कोच पर...

वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भारत के ऐतिहासिक प्रदर्शन के बावजूद ईरानी कोच पर गाज गिरना तय – रिपोर्ट्स

22 सितम्बर को ख़त्म हुए वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप में भारत को कुल पांच मेडल मिले जिसमें से चार ओलिंपिक में कोटा निश्चित करने के लिए काफी थे| भारत का ऐसा प्रदर्शन पहली बार रहा कि 5 मेडल के साथ साथ 4 ओलिंपिक कोटा भी मिला| यह एक ऐतिहासिक टूर्नामेंट था, इसके बावजूद सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक़ ईरानी कोच हुसैन करीमी को हटाने की तैयारी चल रही है| भारत के एक प्रतिष्ठित मीडिया हाउस ने भी इस बात की आशंका जताई है।

पुरषों के चार मेडल मिलने के बाद भी कुश्ती संघ इस उपलब्धि के लिए करीमी को हक़दार नहीं मानती है| उनके हिसाब से करीमी, भारत और रेसलर्स के ट्रेनिंग के तरीकों से तालमेल नहीं बिठा पा रहे हैं|

बता दें कि भारतीय टीम को करीमी का साथ काफी मशक्कत के बाद मिला था, इसके लिए क़रीब एक से डेढ़ साल तक खोज जारी रही थी। और अब अगले साल ओलंपिक्स भी होने वाले हैं ऐसे में उन्हें हटाना भारतीय कुश्की को काफी मेहेंगा पड़ सकता है| इतने कम सयम में नया विदेशी कोच ढूँढना आसान नहीं होगा| इससे पहले भी करीमी को लेकर कई तरह की ख़बरें आती रही हैं जिसमें अप्रैल के महीने में नवरात्र के दौरान होटल में मांसाहारी भोडन न मिलने पर उन्होंने कुश्ती संघ से छुट्टी तक मांग ली थी|

इस बात से इतना तो साफ़ है कि मामला रेसलर्स के प्रदर्शन से ज़्यादा निजी है और यहाँ यह कहना गलत नहीं होगा कि करीमी ने इन रेसलर्स को कुछ अनोखा नहीं सिखाया| ख़बरों के मुताबिक़ पहलवानों ने भी कुश्ती संघ को करीमी की अच्छी रिपोर्ट नहीं दी है|