बुधवार, सितम्बर 30, 2020
होम कुश्ती वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में भारत को पदक दिलाने वाले बजरंग पूनिया का...

वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में भारत को पदक दिलाने वाले बजरंग पूनिया का बड़ा बयान, तीन बार से हो रही है नाइंसाफ़ी

कज़ाख़स्तान में हुए नूर सुल्तान वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप में भारत की टीम का प्रदर्शन अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन रहा है पर बजरंग के अनुसार यह और भी अच्छा हो सकता था अगर मैच के दौरान, होस्ट कंट्री की तरफ से पक्षपात की घटना नहीं हुई होती|

जानिए क्यों बजरंग पूनिया को कहनी पड़ी है ऐसी बात ?

दरअसल बजरंग पूनिया का मुकाबला कज़ाख़स्तान के रेसलर नियाज़बेकोव के साथ था जहाँ बजरंग 2 – 9 से पीछे चल रहे थे पर अंत तक स्कोर 9 – 9 पर ला खड़ा किया| लेकिन कज़ाख़स्तानी रेसलर के 4 पॉइंटर स्कोर करने की वजह से उनको विजयी घोषित किया गया| इससे कोई खुश नहीं था, क्योंकि बजरंग के हिसाब से वह 4 प्वाइंट्स उन्हें मिलने चाहिए थे और उनके साथ नाइंसाफी हुई थी|

यह भी पढ़ें: वर्ल्ड चैम्पियनशिप में बजरंग के नाम एक और पदक

मैच के दौरान ही नाखुश नज़र आ रहे थे बजरंग

यह है वह भारत के रतन जो आने वाले सालों में रोशन करेंगे भारत का नाम

बजरंग ने एक अंग्रेजी अख़बार से बात के दौरान कहा,“किसी को अगर थोड़ा भी रेसलिंग के बारे में पता होगा तो वह समझ जाएगा कि यह गलत तरीके से स्कोरिंग की गई थी| और जहाँ तक बात 4 पॉइंटर की है तो मैं बता दूँ की उस दॉंव की शुरुआत मैंने की थी और रूल के हिसाब से जिसने शुरुआत की है वही अगर पीट के बल गिर जाए तो 2-2पॉइंट दोनों रेसलर्स को मिलता है, लेकिन यहाँ पर रूल की हेरा फेरी हुई है|”

बजरंग के हिसाब से उनको वहां के लोगों ने ख़ास तौर पर कज़ाख़स्तान के लोगों ने आ कर बोला कि उनके साथ पक्षपात हुआ था| “मुझे पता है मुझे यह सब भूल कर आगे बढ़ना है पर मेरे लिए यह बहुत कठिन है क्योंकि मैंने वर्ल्ड चैम्पियनशिप के लिए बहुत मेहनत की थी”।: बजरंग पूनिया, भारतीय रेसलर

बजरंग की हार के बाद रेसलिंग फेडरेशन ऑफ़ इंडिया भी यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग को उस बाउट की जांच के लिए रिव्यू मांग च