गुरूवार, अक्टूबर 1, 2020
होम ताज़ा ख़बर विमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप: मंजू रानी को फाइनल मुकाबले में मिली हार

विमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप: मंजू रानी को फाइनल मुकाबले में मिली हार

रूस में खेली जा रही विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भारत की मंजू रानी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा। 48 किग्रा वर्ग के खिताबी मुकाबले में स्थानीय बॉक्सर एकातेरिना पाल्टसेवा ने भारत की मंजू रानी को 4-1 से हरा दिया। पांच जजों ने मेजबान रूस की खिलाड़ी के पक्ष में 29-28, 29-28, 30-27, 30-27, 28-29 से फैसला सुनाया। इससे पहले सेमीफाइनल मुकाबले में मंजू ने थाईलैंड की सी रकसात को 4-1 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया था।

मंजू के फाइनल में हार के साथ ही विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भारत की चुनौती भी समाप्त हो गई। रूस में खेली गई इस प्रतियोगिता में भारत ने कुल चार पदक जीते, जिनमें मंजू रानी ने 48 किग्रा वर्ग में उम्दा प्रदर्शन करते हुए रजत पदक जीता। इनके अलावा एमसी मैरी कॉम, लवलीना और जमुना बोरो ने अपने-अपने भारवर्ग में कांस्य पदक पर कब्जा जमाया। मंजू 18 सालों बाद दूसरी ऐसी मुक्केबाज बन गई हैं जिसने अपने पहले ही वर्ल्ड चैंपियनशिप में फाइनल में जगह बनाई है। उनसे पहले साल 2001 में भारतीय दिग्गज मुक्केबाज मैरी कॉम ने ये उपलब्धि हासिल की थी।

विमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप: मंजू रानी ने फाइनल में बनाई जगह, मैरीकॉम ने जीता कांस्य

भले ही विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पहली बार शिरकत कर रही मंजू रानी स्वर्णिम इतिहास बनाने से चूक गई हो, लेकिन उनके शानदार प्रदर्शन के बाद निश्चित ही उनसे भविष्य में स्वर्ण की उम्मीद लगाई जा सकती है।