शुक्रवार, नवम्बर 27, 2020
होम टेबल टेनिस हरमीत देसाई और सुतीर्था मुखर्जी ने जीता राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियनशिप का...

हरमीत देसाई और सुतीर्था मुखर्जी ने जीता राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियनशिप का खिताब

टेबल टेनिस खिलाड़ी हरमीत देसाई ने 81वीं राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है। उन्होंने फाइनल मुकाबले में मानव ठक्कर को 4-3 से हराकर खिताब जीता। यह उनका पहला राष्ट्रीय खिताब है। दूसरी तरफ महिलाओं में सुतीर्था मुखर्जी ने राष्ट्रीय खिताब अपने नाम किया। उन्होंने फाइनल में कृत्विका सिंह राय को आसानी से 4-0 से हरा दिया। गौरतलब है कि सुतीर्था इस राष्ट्रीय प्रतियोगिता में हरियाणा का प्रतिनिधित्व कर रही है।

गुजरात के हरमीत देसाई ने फाइनल में छठी वरीय मानव ठक्कर को हराने के लिए कड़ी मशक्क्त की। उन्होंने मानव को 11-4, 11-13, 14-12, 9-11, 11-8, 5-11, 11-5 से हरा दिया। मानव ठक्कर ने इससे पहले सेमीफाइनल मुकाबले में खिताब के प्रबल दावेदार जी साथियान को हराकर फाइनल का टिकट हासिल किया था। अनुभवी शरत कमल के शुरुआती दौर से बाहर हो जाने और साथियान के सेमीफाइनल हारने के बाद हरमीत के पास खिताब जीतने का अच्छा मौका था, जिसे भुनाने में उन्होंने जरा सी भी चूक नहीं की।

 Harmeet Desai enjoying his first Singles gold at Table Tennis National Championship ( Image: GSTTA )
हरमीत देसाई का यह पहला राष्ट्रीय खिताब है।

महिलाओं के फाइनल मैच में हरियाणा की सुतीर्था मुखर्जी ने कृत्विका सिंह राय को 4-0 से हरा दिया। इसके साथ ही यह उनका दूसरा राष्ट्रीय खिताब है। इससे पहले उन्होंने साल 2018 में रांची में खिताब जीता था। इस स्पर्धा का रजत हासिल करने वाली कृत्विका सिंह रॉय का यह तीसरा फाइनल मैच था। इससे पहले वह साल 2013 और 2019 के खिताबी मुकाबले में भी अपनी जगह बना चुकी थी।

इसके अलावा सुतीर्था ने युगल में रिति शंकर के साथ मिलकर भी स्वर्ण पदक जीता। फाइनल मुकाबले में सुतिर्था एवं रीति शंकर ने सुरभी पटवारी एवं पोयमंती बैश्य की जोड़ी को 3-1 से शिकस्त दी। सुतीर्था को हालांकि मिश्रित युगल में हार का सामना करना पड़ा। खिताबी मुकाबले में सौरव साहा के साथ उनकी जोड़ी को रोनित भांजा और मौसमी पाल की जोड़ी ने हराया।