शुक्रवार, सितम्बर 25, 2020
होम टेनिस भारत के युवा टेनिस सनसनी सुमित नागल ने यूएस ओपन के लिए...

भारत के युवा टेनिस सनसनी सुमित नागल ने यूएस ओपन के लिए किया क्वालिफ़ाई, रोजर फ़ेडरर से खलेंगे पहला मैच

शुक्रवार का दिन भारत के लिए खेल की दुनिया में शानदार रहा, बैडमिंटन कोर्ट पर जहां पी वी सिंधु और साई परिनीत ने BWF वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत के दो पदक पक्के किए। तो क्रिकेट के मैदान पर इशांत शर्मा ने पांच विकेट लेकर वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ टीम इंडिया की टेस्ट मैच में वापसी कराई। इन सबके बीच टेनिस कोर्ट पर भी भारतीय युवा सनसनी सुमित नागल ने धमाका कर दिया और वह इस साल के यूएस ओपन में मेंस सिंगल्स खेलने वाले दूसरे भारतीय बन जाएंगे। जहां 26 अगस्त से शुरू हो रहे यूएस ओपन ग्रैंड स्लैम के पहले राउंड में उनका सामना दिग्गज टेनिस स्टार स्विट्ज़रलैंड के रोजर फ़ेडरर से होगा।

सुमित नागल ने 2015 में बॉयज़ विंबलडन टाइटल भी कर चुके हैं अपने नाम

दरअसल, यूएस ओपन के क्वालिफ़ायर में सुमित नागल ने शुक्रवार को ब्राज़िल के जोआ मेनेज़ेस को 5-7, 6-4, 6-3 से शिकस्त देते हुए पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के मेन ड्रॉ में जगह बना ली है। सुमित नागल ने रोमांचक अंदाज़ में ये मुक़ाबला जीता, पहला सेट 5-7 से हारने के बाद सुमित दूसरे सेट में भी 1-4 से पीछे थे और लग रहा था कि इस भारतीय खिलाड़ी की उम्मीद यहीं ख़त्म हो जाएगी। लेकिन सुमित ने हिम्मत नहीं हारी और वापसी करते हुए पहले दूसरा सेट 6-4 से जीता और इस आत्मविश्वास को वह तीसरे और निर्णायक सेट में भी ले गए जहां उन्होंने 6-3 से सेट जीतते हुए मैच और यूएस ओपन का टिकट अपने नाम कर लिया। इस जीत के बाद सुमित नागल काफ़ी उत्साहित नज़र आए।

अब 27 अगस्त को सुमित नागल का सामना पहले राउंड में रोजर फ़ेडरर के ख़िलाफ़ होगा, इससे पहले सुमित ने क्वालिफ़ायर्स में अपने से कहीं ऊपर जापान के तत्सुम इटो को हराया था और फिर दूसरे दौर में नागल ने कनाडा के पीटर पोलंसकी को शिकस्त दी थी।   सुमित नागल इस साल होने वाले यूएस ओपन के मेन ड्रॉ में पहुंचने वाले दूसरे भारतीय है, सुमित के साथ साथ प्रंजनेश गुणेस्वरण भी यूएस ओपन में जगह बना चुके हैं। प्रंजनेश का पहले दौर में मुक़ाबला पांचवीं सीडेड डैनिल मेदवेदेव के ख़िलाफ़ होगा। 1998 के बाद ये पहला मौक़ा होगा जब दो भारतीय पुरुष खिलाड़ी किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के मेन ड्रॉ के पुरुष सिंगल्स में खेलेंगे। इससे पहले महेश भुपती और लिएंडर पेस ने 1998 विंबलडन का मेंस सिंगल्स खेलते हुए नज़र आए थे।

आपको ये भी बताते चलें कि सुमित नागल ने 2015 में विंबलडन में बॉयज़ की टाइटल भी अपने नाम कर चुके हैं।