गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम अन्य चेन्नई की नाविक नेथरा कुमानन ने जीता विश्व कप में कांस्य पदक

चेन्नई की नाविक नेथरा कुमानन ने जीता विश्व कप में कांस्य पदक

चेन्नई की सेलर(नाविक) नेथरा कुमानन ने मियामी में आयोजित हुए सेलिंग वर्ल्ड कप में इतिहास रचते हुए कांस्य पदक जीता है। वह इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में कोई भी पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला नाविक बनी है। उन्होंने 25 जनवरी में हमपेल वर्ल्ड सीरीज के दूसरे दौर में तीसरा स्थान हासिल किया। इस प्रतियोगिता का स्वर्ण यूएस की एरिका रेनेका के नाम रहा। जबकि रजत ग्रीस की वासिलिया कराचलियौ ने कब्जा जमाया।

कुमानन ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया से कहा, “रेस के फाइनल दिन पदक जीतने के बाद भी मुझे यह अहसास नहीं था कि मैने अपने इस प्रदर्शन के बूते पदक जीत लिया है, लेकिन जब तक कि मुझे मेरी साथ के सेलरों ने मुझे इस बार में नहीं बताया। यह मेरे लिए सबसे यादगार जीत में से एक है।”

इससे पहले नेथरा ने साल 2014 और साल 2018 में खेले गये एशियाई खेलों में भी भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया है। नेथरा अपना ज्यादातर समय स्पेन की कैनेरी आइलैंड में अभ्यास में बिताती हैं। इसको उन्होंने कहा, “ग्रान कैनेरी में किये गये अभ्यास ने मेरी स्किल में सुधार करने में मदद की। यहाँ वासिलिया और इब्रू बोलट जैसे टॉप सेलरों के साथ अभ्यास करने से मेरे अंदर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन निकल गया।”

Nethra Kumanan also represented the country in the 2014 and the 2018 Asian Games (Image: Nethra Kumanan/Facebook)

दिलचस्प बात यह है कि पदक जीतने के बावजूद भी ज्यादा खुश नजर नहीं आई। उसके पीछे की वजह यह रही कि उन्होंने इस रेस में अपने रूममेट और अच्छी दोस्त मतिल्डा ताल्लुरी को हराया। इस संबंध में उन्होंने कहा, “मैंने यह पदक अपनी दोस्त से हासिल किया है, इसीलिए मुझे ख़ुशी नहीं है, लेकिन मुझे खुद पर गर्व है।”

जकार्ता एशियाई खेलों में नेथरा चौथे स्थान पर रही थी और पदक हासिल करने से चूक गई थी। उन्होंने आगे कहा, “एशियाई खेलों में, मैं ओलंपिक के लिए जगह पाने के लिए बहुत दबाव में थी। इसीलिए मैं वहां असफल हुई। मुझे लगता है कि इस साल मैं प्रशिक्षण के साथ अधिक सुसंगत रहने की कोशिश कर रही हूं और हमेशा ओलंपिक के बड़े लक्ष्य की दिशा में काम करुँगी।”