गुरूवार, अक्टूबर 29, 2020
होम अन्य मध्य प्रदेश की कराटे खिलाड़ी प्रियंका ने अपना गोल्ड मेडल लौटाने का...

मध्य प्रदेश की कराटे खिलाड़ी प्रियंका ने अपना गोल्ड मेडल लौटाने का ऐलान किया

प्रियंका ने साल 2017 में आगरा में खेली गई आईएसएफ वर्ल्ड कॉम्बेट कराटे स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था और अब तक उन्हें इसका सर्टिफिकेट नहीं मिला है

मध्यप्रदेश के बैतूल से संबंध रखने वाली महिला कराटे खिलाड़ी प्रियंका चोपरे ने अपना गोल्ड मेडल लौटाने का फैसला किया है। प्रशासन के लगातार नजरअंदाज होने के बाद प्रियंका ने यह कदम उठाने का फैसला किया है। उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के जन्मदिन पर अपना मेडल लौटाने की बात कही है। गौरतलब हो कि प्रियंका ने साल 2017 में आगरा में खेली गई आईएसएफ वर्ल्ड कॉम्बेट कराटे स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था और अब तक उन्हें इसका सर्टिफिकेट नहीं मिला है।

इस संदर्भ में प्रियंका ने बेतुल के कलेक्टर को पत्र भी लिखा है और पदक लौटाने की बात कही है। उन्होंने अपने पत्र में बताया है कि दो साल के बाद भी उन्हें इसका सर्टिफिकेट नहीं मिला है। उल्लेखनीय है कि उन्होंने आगरा में आयोजित प्रतियोगिता में ब्राजील और चीन की खिलाड़ियों को भी हराया था। उन्हें बिना सर्टिफिकेट के भोपाल की स्पोर्ट्स एकेडमी में एडमिशन नहीं मिल पाया और उनकी स्कॉलरशिप भी नहीं मिली।

प्रियंका ने बताया कि वह प्रतियोगिता में खेलने का खुद खर्चा उठाती आई हैं। पिछले दो सालों से उन्हें प्रतियोगिता में जाने का कोई खर्चा नहीं मिला है। प्रियंका ने अपने पत्र में आगे बताया कि उनके पापा मजदूरी करते हैं और मेरी पढ़ाई और कराटे का खर्चा उठाना हमारे बस में नहीं है। इन परिस्थितियों में, मैं पदक लौटना चाहती हूँ। इसके अलावा उन्होंने राष्ट्रीय और अंतररराष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए कोई कोच नहीं मिला।

दूसरी तरफ स्पोर्ट्स ऑफिसर जगदीश वर्मा ने पदक न लौटाने की अपील की है। उन्होंने कहा, “हम चाहते हैं कि प्रियंका अपना पदक न लौटाए, जो उन्होंने अपनी मेहनत से हासिल किया है। हम इस बारे में सीनियर अधिकारियों से सम्पर्क में हैं कि उन्हें क्यों अब तक सर्टिफिकेट नहीं मिल पाया है।”