Begin typing your search above and press return to search.

क्रिकेट

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ी को मैच फ़िक्सिंग की दी गई पेशकश, पुलिस ने दर्ज किया FIR

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ी को मैच फ़िक्सिंग की दी गई पेशकश, पुलिस ने दर्ज किया FIR
X
By

Syed Hussain

Published: 17 Sep 2019 8:27 AM GMT

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की एंटी करप्शन यूनिट के चीफ़ अजीत सिंह ने सोमवार को एक बड़ा ख़ुलासा किया है, अजीत सिंह के मुताबिक भारतीय महिला क्रिकेट टीम की एक बड़ी खिलाड़ी को मैच फ़िक्सिंग की पेशकश दी गई थी।ट

वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप के चौथे दिन विनेश फ़ोगाट और दूसरे पहलवानों की अपडेट

जिस खिलाड़ी को ये पेशकश दी गई थी उसने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ फ़रवरी में हुई वनडे सीरीज़ से ठीक पहले बोर्ड के सामने ये बात रखी थी। एशियन न्यूज़ इंटरनेश्नल से बात करते हुए अजीत सिंह ने इस बात का ख़ुलासा किया।

भारतीय महिला क्रिकेट में फ़िक्सिंग की पेशकश का मामला पहली बार सामने आया

“वह महिला क्रिकेट एक बड़ी अंतर्राष्ट्रीय भारतीय क्रिकेटर है और अभी भी खेल रही है, इसलिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट संघ ने भी इसकी जांच की और फिर उस व्यक्ति को कड़ी चेतावनी भी दी गई जो उस महिला क्रिकेटर के पास पेशकश लेकर गया था। उस खिलाड़ी ने हमारे पास आकर बताया, ये बेहतरीन क़दम था।‘’: अजीत सिंह, चीफ़, एंटी करप्शन यूनिट, बीसीसीआई

बेंगलुरु पुलिस स्टेशन में उस व्यक्ति के ख़िलाफ़ FIR भी दर्ज कर दी गई है, प्रतिष्ठित न्यूज़ पोर्टल से बातचीत में पुलिस ने भी ये भी बताया कि उस शख़्स का नाम राकेश बाफ़ना और जितेन्द कोठारी है।

इन दोनों के बारे में ऐसा बताया जा रहा है कि ये उन्होंने ख़ुद को स्पोर्ट्स मैनेजर के तौर पर बताते हुए खिलाड़ी से मुलाक़ात की थी। जिसके बाद महिला खिलाड़ी को शक़ हुआ और उसने फिर बीसीसीआई को इस पूरे मामले की जानकारी दी।

प्रो कबड्डी इतिहास के 3 स्टार डिफ़ेंडर जिनके नाम है एक मैच में 'डबल हाई फ़ाइव'

भारत के एक अंतर्राष्ट्रीय मैच पर क़रीब 190 मिलियन यूएस डॉलर की रक़म सट्टा बाज़ार में लगाई जाती है, और अब इसमें महिला क्रिकेट मैच भी शामिल हैं। यही वजह है कि सटोरी अब महिला क्रिकेटर्स को भी इसमें शामिल करने के लिए स्पॉट फ़िक्सिंग और मैच फ़िक्सिंग की लालच दे रहे हैं। भारत में इससे पहले भी मेंस क्रिकेट में कई बार मैच फ़िक्सिंग का प्रकरण सामने आता रहा है, जिसमें मोहम्मद अज़हरउद्दीन से लेकर श्रीसंत और अजय जडेजा भी सवालों के घेरे में रहे हैं। लेकिन महिला क्रिकेट में ये अब तक का पहला मामला देखने में आया है।

Next Story
Share it