बुधवार, अक्टूबर 28, 2020
होम ताज़ा ख़बर FIH सीरीज फाइनल: भारतीय महिला टीम का विजय अभियान ज़ारी

FIH सीरीज फाइनल: भारतीय महिला टीम का विजय अभियान ज़ारी

ओलम्पिक क्वालीफायर में जगह बनाने के लिए जापान के हिरोशिमा में हो रहे FIH सीरीज फाइनल में भारतीय महिला हॉकी टीम का विजय अभियान जारी है। भारत ने अपने पहले मैच में उरुग्वे को 4-1 से और दूसरे मैच में पोलैंड को 5-0 से हराया।

शनिवार को खेले गए पहले मुक़ाबले में विश्व की नौवे स्थान पर काबिज़ भारत को 24वे स्थान पर काबिज़ उरुग्वे के खिलाफ पहले क्वार्टर में  ज़्यादा मशक्कत करनी पड़ी, पुरे क्वार्टर में उरुग्वे का पलड़ा भारी रहा और टीम को दो पेनल्टी कार्नर भी हासिल हुए लेकिन किसी को भी वो गोल में बदलने में नाकामयाब रहे। कप्तान रानी रामपाल ने दसवे मिनट में गोल करते हुए टीम को 1-0 से आगे कर दिया। पहले क्वार्टर में और कोई गोल नहीं हुआ। दूसरे क्वार्टर में भारत का पलड़ा भारी रहा और 21वे मिनट में भारत को पेनल्टी कार्नर मिला और गुरजीत कौर ने बिना गलती के गोल करते हुए स्कोर 2-0 कर दिया। तीसरे क्वार्टर में दोनों टीमों की स्थिति एक जैसी रही और दोनों टीमें ने एक दूसरे पर लगातार हमले ज़ारी रखे, भारत को पुरे क्वार्टर में 4 पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन उरुग्वे की गोलकीपर कॉन्स्टेंस स्च्मिडट-लायरमैन के रक्षात्मक शैली का भारत के पास कोई जवाब नहीं था। 40वे मिनट में ज्योति ने वंदना कटारिया के  पास पर फील्ड गोल करते हुए स्कोर को 3-0 से भारत के पक्ष में किया। चौथे क्वार्टर की कहानी भी लगभग वैसी ही रही। 50वे मिनट में नेहा गोयल के पास शानदार मौका आया लेकिन उनका शॉट गोल पोस्ट के राइट कार्नर के पास से छू कर चला गया। इसके एक मिनट बाद ही उरुग्वे ने एक शानदार काउंटर अटैक किया टेरेसा विएना ने गोल करते हुए टीम को मैच में वापस लेन की कोशिश की, 56वे मिनट में रानी रामपाल के सर्किल के बाहर से दिए पास पर लालरेमसियामी ने आसान गोल करते हुए स्कोर लाइन को 4-1 से भारत के पक्ष में कर दिया। मैच का अंत भारत के पक्ष में रहा।

दूसरे मैच में भारत का सामना विश्व की 23वी रैंकिंग वाली पोलैंड के खिलाफ था। पहले क्वार्टर में पोलिश टीम ने भारत को पूरी तरह से परेशान करके रखा, भारत ने जहा एक के बाद एक हमले करके कई मौके बनाने की कोशिश की, वही पोलिश डिफेंस और मिडफ़ील्ड लाइन ने भारत को पूरी तरह से रोके रखा। क्वार्टर के आखिरी मिनटों में रानी और मोनिका ने लेफ्ट विंग से एक शानदार मूव बनाया और रानी के पास पर नवनीत कौर ने D के अंदर नेहा गोयल को पास दिया लेकिन उनका डिफ्लेक्शन पोलिश गोलकीपर एना गाबारा ने रोक लिया। पहला क्वार्टर गोल रहित रहा।

दूसरे क्वार्टर में भारत ने अपने खेल में गति लायी और 21वे मिनट में सुनीता लाकरा ने पोलिश डिफेंस पे दबाव बनाते हुए लेफ्ट साइड में नवजोत कौर को पास दिया जहा से उन्होंने D के अंदर ज्योति को क्रॉस दिया और ज्योति ने बॉल को गोल के अंदर पहुंचाते हुए भारत को शुरुआती लीड दी। 26वे मिनट में वंदना कटारिया ने पेनल्टी कार्नर पर गोल करते हुए लीड को 2-0 कर दिया, इसके दो मिनट बाद ही गुरजीत कौर ने पेनल्टी कॉर्नर से गोल निकालते हुए स्कोर 3-0 कर दिया। हाफ टाइम तक स्कोर यही रहा। तीसरा क्वार्टर में पोलैंड ने फिर से भारत के ऊपर दबाव बनाना शुरू किया था, मोनिका, रानी और नवनीत ने कई शानदार हमले किये लेकिन वे  पोलिश डिफेंस को भेदने में नाकामयाब रहे। 35वे मिनट में भारत को पेनल्टी स्ट्रोक मिला और गुरजीत ने बिना कोई गलती के गोल करते हुए स्कोर लाइन को 4-0 पर ला दिया। चौथे क्वार्टर में दोनों टीमों की रणनीति में कोई अंतर नहीं दिखा और 50वे मिनट में भारत की निशा को ग्रीन कार्ड दिखाया गया। 53वे मिनट में भारत को एक और पेनल्टी कार्नर मिला और गुरजीत कर पास हैटट्रिक बनाने का मौका था लेकिन उनकी ड्रैग फ्लिक क्रॉसबार के ऊपर से निकल गयी। 56 वे मिनट निक्की प्रधान को येलो कार्ड दिखाया गया लेकिन पोलैंड की बजाय भारत ने मौका बनाते हुए नवनीत कौर ने शानदार फील्ड गोल की बदौलत बढ़त को 5-0 कर लिया। भारत ने यह मैच भी अपने नाम कर लिया।

भारतीय टीम 6 अंको के साथ पूल A में शीर्ष पर बनी हुयी है, भारत अपना अगला मुक़ाबला फिजी के खिलाफ 18 जून को खेलेगा।