शुक्रवार, फ़रवरी 26, 2021
होम ताज़ा ख़बर FIH सीरीज फाइनल: गुरजीत की हैटट्रिक से भारतीय महिला टीम सेमी फाइनल...

FIH सीरीज फाइनल: गुरजीत की हैटट्रिक से भारतीय महिला टीम सेमी फाइनल में

जापान के हिरोशिमा में हो रहे FIH सीरीज फाइनल में भारतीय महिला हॉकी टीम ने अपने अंतिम पूल मैच में फिजी को 11-0 से हराकर सेमी फाइनल में जगह बना ली है। भारत के लिए गुरजीत कौर ने सर्वाधिक चार गोल किये।

विश्व की 44 वे रैंकिंग वाली फिजी के खिलाफ भारतीय टीम को जीतने में  ज़्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी और मैच के चौथे मिनट में ही लालरेमसियामी ने भारत को बढ़त दिला दी, उनका D के अंदर किया गया क्रॉस फिल्ड पास फिजी के डिफेंडर की स्टिक को छूते हुए सीधे नेट में गया। पांचवे, छठे और नौवे मिनट में भारत को पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन तीनो बार ही भारतीय ड्रैग फ़्लिकेर्स इन्हे भुनाने में नाकामयाब रहे। 10 वे मिनट में मिले चौथे पेनल्टी कार्नर को कप्तान रानी रामपाल ने कन्वर्ट  करते हुए बढ़त को 2-0 कर दिया। इसके एक मिनट बाद ही नेहा गोयल ने लेफ्ट फ्लेंक से अटैक करते हुए मोनिका को क्रॉस दिया और उन्होंने बिना कोई गलती किये डिफेंस भेदकर स्कोर लाइन को 3-0 कर दिया। 12 वे मिनट में वंदना कटारिया ने फील्ड गोल और 15 वे मिनट में गुरजीत कौर ने पेनल्टी कार्नर से गोल करते हुए पहले क्वार्टर के समाप्त होने तक स्कोर लाइन 5-0 कर दी।

दूसरे क्वार्टर में भी भारत ने आक्रामक शैली ही अपनायी और 19 वे मिनट में गुरजीत कौर ने पेनल्टी कार्नर पर स्कोर किया, 21 वे मिनट में गुरजीत कौर ने फिर पेनल्टी कार्नर पर गोल करते हुए अपनी हैटट्रिक पूरी की और इसके एक मिनट बाद ही फिर से पेनल्टी कार्नर पर गोल करते हुए अपना मैच का चौथा गोल किया। 25 वे मिनट में भारत को पेनल्टी स्ट्रोक मिला लेकिन कप्तान रानी रामपाल इस अवसर को नहीं भुना पायी। हाफ टाइम तक स्कोर 8-0 से भारत के पक्ष में था।

गुरजीत कौर

भारतीय टीम यही रुकने वाली नहीं थी, तीसरे क्वार्टर के शुरू होने के तीसरे मिनट में ही मोनिका ने सुशीला चानू के सर्किल के बाहर से दिए क्रॉस पर शॉट लगाते हुए मैच का नौवा गोल किया। इसके बाद फिजी ने अपना डिफेंस मज़बूत किया और भारत के हर हमले को आसानी से विफल करते रहे। 45 वे मिनट में भारत को एक और पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन टीम इसे भी भुनाने में असफल रही।

चौथे क्वार्टर के शुरुआती पांच मिनट में फिजी ने मैच को कण्ट्रोल करने की कोशिश की लेकिन 51 वे मिनट में लिलिमा मिंज ने  रिवर्स हिट लगाते भारत के गोलों की संख्या को दहाई पर पंहुचा दिया। 57 वे मिनट में नवनीत कौर ने फिजी के गोलकीपर की गलती का फायदा उठा कर भारत का 11 वा गोल किया। मैच में इसके बाद कोई गोल नहीं हुआ और भारत 11-0 के स्कोर के साथ विजयी रहा।

भारीतय टीम पूल A में 9 अंको के साथ शीर्ष पर रहकर सेमी फाइनल में जगह बनायीं। मैच के बाद कप्तान रानी ने कहा कि “यह अच्छी बात है कि हम सेमी फाइनल में हैं, हमारी टीम ने वास्तव में पुरे पूल मैचेस लगातार अच्छी तरह से खेले है, आज हम फिजी के लिए  विशेष रूप से सम्मान प्रकट करते करते हैं, जिन्होंने अपनी क्षमता से बढ़कर चुनौती दी।”

भारत का सेमी फाइनल में मुक़ाबला चिली और उरुग्वे के बीच होने वाले क्रॉस ओवर मैच के विजेता से होगा। यदि भारतीय टीम यह मैच जीत जाती है तो वह ओलिंपिक क्वालीफायर में जगह बनाने में कामयाब हो जाएगी।