मंगलवार, नवम्बर 24, 2020
होम अन्य COVID-19: किरेन रीजीजू ने खिलाड़ियों के लिए साइ के कार्यक्रम की समीक्षा...

COVID-19: किरेन रीजीजू ने खिलाड़ियों के लिए साइ के कार्यक्रम की समीक्षा की

खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कोविड-19 महामारी के कारण 21 दिन के लॉकडाउन (राष्ट्रव्यापी बंद) के मद्देनजर मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) द्वारा खिलाड़ियों को व्यस्त रखने की पहल की समीक्षा की। रीजीजू ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से देश भर के सभी साइ केंद्रों के क्षेत्रीय निदेशकों के साथ बैठक की और स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने राष्ट्रव्यापी बंद हट जाने के बाद की योजना और उपायों पर भी चर्चा की।

साइ के एक अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘‘ खेलमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से साइ और खेल मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों की मौजूदगी में सभी साइ केंद्रों के क्षेत्रीय निदेशकों के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने इस बैठक के दौरान एथलीटों का मनोबल ऊंचा रखने और उन्हें व्यस्त रखने के लिए इन केन्द्रों की पहल के बारे में जानकारी ली।’’ उन्होंने बताया, ‘‘रीजीजू ने इस दौरान साइ के बेंगलुरु केन्द्र और राष्ट्रीय खेल संस्थान (एनआईएस) पटियाला के द्वारा उठाये गये कदमों का भी विवरण लिया। जहां अभी एथलीट मौजूद है। साइ के अन्य केन्द्रों के एथलीट और कोच घर चले गये है।’’

रीजीजू ने इस कठिन समय में एथलीटों को प्रेरित करने के लिए साइ केन्द्रों द्वारा उठाए गये कदमों की समीक्षा की। अधिकारी के मुताबिक, ‘‘ मंत्री साइ केन्द्रों से जानना चाहते थे कि वे लॉकडाउन के दौरान समय का अधिकतम उपयोग कैसे कर रहे हैं। हर दिन साइ के सभी एथलीटों को अपने कोच के साथ ऑनलाइन जुड़ना अनिवार्य है ताकि वे अपने प्रशिक्षण और शारीरिक फिटनेस पर नजर रख सकें।’’ एथलीटों को रोजाना के लाइव सत्रों से जुड़ना होता है, जहां विशेषज्ञ खेल के विभिन्न पहलुओं पर बात करते हैं, जिसमें शारीरिक फिटनेस, पोषण आदि शामिल हैं। बैठक में साइ के महानिदेशक संदीप प्रधान, खेल सचिव राधेश्याम जुलानिया, अन्य शीर्ष अधिकारी भी उपस्थित थे।

इसमें लॉकडाउन के हटने के बाद आगे की योजा पर चर्चा की गयी। खेल मंत्रालय ने ट्वीट किया, ‘‘ साइ और मंत्रालय के अधिकारी राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) के पदाधिकारियों से लगातार संपर्क में हैं और राष्ट्रव्यापी बंद के बाद ओलंपिक की तैयारी की योजनाओं को पर चर्चा कर रहे है।’’ रीजीजू के कर्यालय ने भी ट्वीट किया, ‘‘ 1. जो खिलाड़ी घर पर है वे डिजिटल माध्यम से कोच से जुड़ रहे है जिससे उनका अभ्यास प्रभावित नहीं हो। 2. एथलीट और कोच साइ के सत्र के सीधा प्रसारण से विशेषज्ञों की मदद से अपनी समझ बढ़ा रहे है।’’