Begin typing your search above and press return to search.

शतरंज

कोविड-19 पाबंदियों के कारण भारत वापसी में विलंब के बाद आनंद कमेंटरी में व्यस्त रहेंगे

कोविड-19 पाबंदियों के कारण भारत वापसी में विलंब के बाद आनंद कमेंटरी में व्यस्त रहेंगे
X
By

Press Trust of India

Updated: 2022-04-20T02:20:56+05:30

कोविड-19 महामारी से जुड़ी पाबंदियों के कारण भारत वापसी में विलंब के बाद पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद कमेंटरी का अपना पहला अनुबंध पूरा करेंगे। जर्मनी में मौजूद आनंद ने स्वयं को पृथक रखा हुआ है। आनंद की पत्नी अरूणा ने बताया कि 50 साल के इस दिग्गज को बुंदेसलीगा शतरंज लीग में खेलने के बाद सोमवार को चेन्नई लौटना था लेकिन यात्रा पाबंदियों के कारण फ्रेंकफर्ट के समीप रुकना पड़ा। रूस के येकाटेरिनबर्ग में मंगलवार से शुरू हो रहे फिडे कैंडीडेट्स टूर्नामेंट के लिए आनंद कमेंटेटर की भूमिका में नजर आएंगे और अपने मौजूद स्थल से ही कमेंटरी करेंगे। इस प्रतियोगिता से विश्व चैंपियन मैगनस कार्लसन के चैलेंजर का फैसला होगा।

अरूणा ने पीटीआई को बताया, ''वह एक वेबसाइट के लिए कैंडीडेट्स टूर्नामेंट की कमेंटरी करेंगे। उम्मीद करती हूं कि इससे वह व्यस्त भी रहेंगे।'' आनंद बुंदेसलीगा शतरंज लीग में ओएसजी बेडेन-बेडेन की ओर से खेल रहे थे। अरूणा ने कहा, ''उनकी वापसी की योजना के लिए हमें इंतजार करना होगा।'' उन्होंने कहा, ''वह फ्रेंकफर्ट के समीप हैं। यात्रा पाबंदियों और परामर्शों को देखते हुए उनकी वापसी की योजना के लिए हमें इंतजार करना होगा।'' अरूणा ने कहा कि आनंद ने एहतियाती कदम उठाते हुए खुद को पृथक रखा हुआ है। उन्होंने कहा, ''कोरोना वायरस के खतरे के कारण उन्होंने एहतियाती कदम उठाते हुए लोगों से दूरी बना रखी है।''

अरूणा ने कहा कि ये असाधारण परिस्थितियां हैं और आनंद नियमित तौर पर उनसे और बेटे अखिल से बात करते हैं। उन्होंने कहा, ''यह असाधारण स्थिति है। लेकिन हम तकनीक के मदद से लगातार संपर्क में हैं। हम फोन और वीडियो कॉल के जरिए संपर्क में हैं। यह आभासी छुट्टियों की तरह है।''

अरूणा ने कहा, ''अखिल फोन और वीडियो कॉल पर अपने पिता से बात कर रहा है जिससे उनकी कमी महसूस नहीं हो रही है उसे। आज से स्कूल बंद हो रहे हैं जिससे अखिल के पास अधिक खाली समय होगा और विशी (आनंद) के संपर्क में रहने का अधिक समय।'' कोरोना वायरस महामारी का अंतरराष्ट्रीय खेलों पर भी प्रतिकूल असर पड़ा है और अगले दो हफ्ते में होने वाली अधिकांश प्रतियोगिताओं को या तो रद्द कर दिया गया है या फिर स्थगित। चीन के वुहान शहर से शुरू हुए इस घातक संक्रमण के कारण दुनिया भर में 6000 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।

Next Story
Share it