रविवार, सितम्बर 20, 2020
होम ताज़ा ख़बर वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप: 8वें दिन भारत की ख़राब शुरुआत, दुर्योधन सिंह नेगी...

वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप: 8वें दिन भारत की ख़राब शुरुआत, दुर्योधन सिंह नेगी को मिली हार हुए बाहर

भारत के लिए रूस के एकाटेरिनबर्ग में चल रहे AIBA वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के 8वें दिन की शुरुआत निराशाजन रही। जब 69 किग्रा वर्ग में भारत के दुर्योधन सिंह को जॉर्डन के एयाशश ज़ेयाद से हार मिली।

ये भी पढ़ें: प्रो कबड्डी इतिहास के वे 3 टॉप डिफेंडर जिनके नाम है ‘डबल हाई फ़ाइव’

ज़ेयाद ने दुर्योधन को स्पिलिट निर्णय से 4-1 से मात दी, इस हार के साथ दुर्योधन का सफ़र वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में यहीं ख़त्म हो गया।

दुर्योधन भारत के तीसरे मुक्केबाज़ हैं जिन्हें हारकर इस टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा है। पहले दौर में दुर्योधन ने अरमेनिया कोरिउन अस्तियान को शिकस्त दी थी।

इससे पहले आशीष कुमार और बृजेश यादव को भी हार का सामना करना पड़ा था। भारत का अगला मुक़ाबला सोमवार रात 91 किग्रा वर्ग में सतीश कुमार का है, जिन्हें अमेरिका के रिचर्ड टॉरेज़ से सामना करना है।

इससे पहले रविवार को यानी सातवें दिन भारतीय मुक्केबाज़ रविंदर सिंह बिष्ठ ने शानदार अंदाज़ में 57 किग्रा वर्ग में चाइना के ज़िहाओ चेन को 3-2 से हरा कर प्री क्वार्टर फ़ाइनल्स में जगह बना ली थी। कविंदर आख़िरी 16 में अब फ़िनलैंड के अर्सलान खातेव से भिड़ेंगे।

ये भी पढ़ें: कैसा रहा था वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भारत के लिए रविवार ?

हालांकि कविंदर के बाद 81वर्ग में भारतीय मुक्केबाज़ बृजेश यादव की चुनौती तुर्की के बेरम मलकान ने ख़त्म कर दी। मलकान ने बृजेश को 4-1 से शिकस्त दी, इसकी बड़ी वजह रही बृजेश का पहले दो राउंड में आक्रामक न खेलना। साफ़ दिख रहा था कि बृजेश शुरुआत में बेहद डिफ़ेंसिव एप्रोच के साथ लड़ रहे थे, जिसका फ़ायदा उठाते हुए तुर्की के मुक्केबाज़ ने जमकर प्वाइंट्स बटोरे। हालांकि बृजेश ने आख़िरी राउंड में वापसी तो की लेकिन वह नाकाफ़ी साबित हुई।

सनजीत की ये पहली वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप है

जबकि 91 किग्रा वर्ग में सनजीत ने  स्कॉटलैंड के दिग्गज स्कॉट फ़ॉरेस्ट को शिकस्त देते हुए प्री क्वार्टरफ़ाइनल में एंट्री ले ली। सनजीत पहली बार वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में शिरकत कर रहे हैं। सनजीत ने पहले दौर में ख़ूब प्रहार झेले, लेकिन फिर शानदार वापसी करते हुए स्कॉटलैंड के मुक्केबाज़ को चारों ख़ाने चित कर दिया। आपको बता दें सनजीत ने इससे पहले इंडियन ओपन का गोल्ड मेडल भी अपने नाम किया है।

भारत के 5 मुक्केबाज़ अभी भी पदक की दौड़ में शामिल हैं, जिनके नाम हैं मनीष कौषिक, अमित पंघल, सतीश कुमार, सनजीत और कविंदर सिंह बिष्ठ।