गुरूवार, अक्टूबर 1, 2020
होम कुश्ती स्पेन ग्रैंड प्रिक्स रेसलिंग: भारत ने हासिल किए 6 मेडल

स्पेन ग्रैंड प्रिक्स रेसलिंग: भारत ने हासिल किए 6 मेडल

स्पेन में आयोजित हुए ग्रैंड प्रिक्स रेसलिंग टूर्नामेंट खेलने और प्रैक्टिस कैंप के लिए पहुंची भारतीय महिला पहलवानों ने शानदार शुरुआत की है। सात पहलवानों में से छह ने मेडल जीते हैं, जिनमें से विनेश फोगट 53 किलो में और दिव्या काकरान 68 किलो में स्वर्ण पदक हासिल करने में कामयाब रहीं हैं। वहीं 50 किलो में सीमा बिसला, 57 किलो में पूजा ढांडा, 59 किलो में मंजू कुमारी और 72 किलो में किरण ने रजत पदक जीते हैं।

विश्व रेसलिंग चैंपियनशिप की है तैयारी

2020 में, टोक्यो में आयोजित होने वाले ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने के लिए, एक महीने बाद ही विश्व चैंपियनशिप होनी है। इसमें हर भार वर्ग के पहले पांच पहलवानों को ओलंपिक का टिकट मिलेगा। इसलिए सभी पहलवान पहली बार में ओलंपिक का टिकट पक्का करने के लिए कड़ी मेहनत और अभ्यास कर रहें हैं।

इस विश्व चैंपियनशिप से पहले ही भारतीय महिला पहलवानों को स्पेन ग्रांट प्रिक्स रेसलिंग टूर्नामेंट के लिए स्पेन भेजा गया है और सात पहलवानों में से छह ने ज़बरदस्त प्रदर्शन किया है।

लेकिन पदक हासिल करने की खुशी के साथ ही एक चिंताजनक खबर भी सामने आई है।

दो दिन पहले स्पेन में ही ओलपिंक मेडलिस्ट साक्षी मलिक के पैर में चोट लग जाने के कारण वे ग्रैंड प्रिक्स टूर्नामेंट में नहीं खेल पाईं। ज़ाहिर है कि इससे उनकी विश्व चैंपियनशिप की ट्रेनिंग पर भी असर पड़ सकता है क्योंकि पहलवानों को अब वहाँ कैम्प करना है लेकिन साक्षी को एक हफ्ते से अधिक समय तक कुश्ती से दूर रहना पड़ सकता है।