गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी 2019 : हरियाणा स्टीलर्स को तमिल थलाइवाज के खिलाफ मिली...

प्रो कबड्डी 2019 : हरियाणा स्टीलर्स को तमिल थलाइवाज के खिलाफ मिली संघर्षपूर्ण हार

हरियाणा स्टीलर्स को उसके शानदार प्रदर्शन के बावजूद प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के सातवें सीजन में रविवार को तमिल थलाइवाज के हाथों 28-35 से हार का सामना करना पड़ा।

इस मैच में विकास कंडोला ने शानदार वापसी की, लेकिन तमिल थलाइवाज ने मैच के अंतिम कुछ मिनटों में अपनी बढ़त को कायम रखते हुए जीत अपने नाम कर ली।

हरियाणा स्टीलर्स ने मैच के शुरुआती मिनटों में विकास और पहले मैच में 14 अंक लेने वाले नवीन के रेडरों से शानदार शुरूआत की। मैच के छठे मिनट में विनय ने शानदार रेड लगाया और फिर इसके बाद सुनील ने अगले मिनट में ही टैकल प्वाइंटस लेते हुए हरियाणा को चार अंकों की बढ़त दिला दी। मैच के 11वें मिनट में हरियाणा ने थलाइवाज को आलआउट करके स्कोर 14-5 तक पहुंचा दिया।

राहुल चौधरी

इसके बाद टीम ने अपनी बढ़त को कायम रखते हुए पहले हाफ की समाप्ति तक नौ अंकों की बढ़त बना ली और 19-10 से पहला हाफ अपने पक्ष में कर लिया।

मैच के दूसरे हाफ के शुरुआती मिनटों में तमिल थलाइवाज ने टैकल के माध्यम से वापसी करने की कोशिश, लेकिन विकास और नवीन ने हरियाणा की बढ़त को कायम रखा। मैच के 26वें मिनट में हरियाणा स्टीलर्स के कप्तान धर्मराज चैरालथन ने अजय ठाकुर को टैकल करते हुए हरियाणा को पांच अंकों की बढ़त दिला दी, जिससे उसका स्कोर 24-19 हो गया।

तमिल थलाइवाज ने हालांकि इसके बाद शानदार वापसी की तेजी से रेड तथा टैकल प्वाइंट्स लेने शुरू कर दिए। एक बार जब थलाइवाज ने लीड हासिल कर ली तो हरियाणा स्टीलर्स के खिलाड़ियों ने उसका पीछा करने की पूरजोर कोशिश लेकिन 35वें मिनट में हासिल टैकल प्वाइंट्स की मदद थलाइवाज ने बढ़त को दोगुनी कर ली।

नवीन कुमार

सेल्वामणी ने 36वें मिनट में एक शानदार रेड किया और धर्मराल चेरालाथन ने 38वें मिनट में सुपर टैकल किया। लेकिन इसके बावजूद थलाइवाज की बढ़त कायम थी।

अंतिम क्षणों में थलाइवाज ने एक टैकल प्वाइंट हासिल किया और इस सीजन में अपनी दूसरी जीत हासिल की। दूसरी ओर पूरे मैच में स्टीलर्स जबर्दस्त प्रतिस्पर्धा के बावजूद थलाइवाज को लीड लेने से नहीं रोक सकी और हार पर मजबूर हुए।

अब हरियाणा स्टीलर्स को अपना अगला मैच सात अगस्त को मेजबान पटना पाइरेटस के साथ खेलना है और वह उसमें पूरे दमखम के साथ वापसी करने की कोशिश करेगी।