शुक्रवार, सितम्बर 25, 2020
होम ताज़ा ख़बर एआईएफएफ पुरस्कार: सुनील छेत्री छठी बार बने पुरुष फुटबॉलर ऑफ द ईयर

एआईएफएफ पुरस्कार: सुनील छेत्री छठी बार बने पुरुष फुटबॉलर ऑफ द ईयर

अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ ने मंगलवार को 2018 – 19 के पुरस्कारों की घोषणा की जिनमें भारतीय पुरुष फुटबॉल टीम के खिलाड़ी सुनील छेत्री और महिला टीम की खिलाड़ी आशालता देवी ने अपनी – अपनी श्रेणियों में सर्वश्रेष्ठ सम्मान जीता।

सुनील को पुरुष फुटबॉलर ऑफ द ईयर के खिताब से सम्मानित किया गया, यह छठवीं बार है जब छेत्री ने प्रतिष्ठित पुरस्कार जीता, इससे पहले उन्होंने 2007, 2011, 2013, 2014 और 2017 में यह जीता था।

हाल ही में वे अर्जेंटीना के स्ट्राइकर लियोनेल मेस्सी को पीछे छोड़ते हुए अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल में दूसरे उच्च सक्रिय गोल – स्कोरर बन चुके हैं। छेत्री ने हाल में ही इंटर कॉन्टिनेंटल कप में ताजीकिस्तान के खिलाफ 2 गोल करके अपने अंतर्राष्ट्रीय गोलों की संख्या 70 की है

“यह तथ्य कि यह हीरो आई-लीग और हीरो आई एस एल कोचों द्वारा वोट किया गया था, इसे और अधिक विशेष बनाते हैं, मैं अपने क्लब के सदस्यों, कोचों, साथी खिलाड़ियों, राष्ट्रीय टीम के कर्मचारियों और उनके समर्थन, प्यार और स्नेह के लिए आभारी हूं,” छेत्री ने विजेता घोषित होने के कुछ समय बाद कहा।

आशालता देवी

अन्य सम्मान कुछ इस प्रकार रहें :

सहल अब्दुल को पुरुषों की श्रेणी में इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर घोषित किया गया, मणिपुर की दंगमेई ग्रेस ने महिलाओं की श्रेणी में यह खिताब हासिल किया।

वहीं तमिलनाडु के आर वेंकटेश को बेस्ट रेफरी और केरल के जोसफ टोनी को बेस्ट एसिस्टेंट रेफरी के पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

बेस्ट ग्रासरूट्स डेवलपमेंट प्रोग्राम के लिए जम्मू और कश्मीर फुटबॉल अकादमी को पुरस्कृत किया गया।