गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम ताज़ा ख़बर इंटर कॉन्टिनेंटल कप के पहले मैच में ताजीकिस्तान ने भारत को 4-2...

इंटर कॉन्टिनेंटल कप के पहले मैच में ताजीकिस्तान ने भारत को 4-2 से हराया

अहमदाबाद में शुरू हुए हीरो इंटर कॉन्टिनेंटल कप 2019 के पहले मैच में ताजीकिस्तान ने भारत को 4-2 से हराया है। भारतीय टीम हाफ टाइम तक 2-0 की बढ़त लिए हुए थी लेकिन दूसरे हाफ में ताजीकिस्तान ने अपने बेहतर गेम की बदौलत मैच को अपने नाम कर लिया। कोच इगोर स्टीमक ने नरेंदर गेहलोत को प्लेइंग XI  में शामिल करके उन्हें अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने का मौका दिया।

पहले हाफ की शुरुआत भारत ने अच्छे से की और तीसरे मिनट में ही लालिजुआला चांगते के खिलाफ किये फ़ाउल पर भारत को पेनल्टी मिली और कप्तान सुनील छेत्री ने बिना कोई गलती के शुरुआती मिनटों में भारत को बढ़त दिला दी। इसके बाद ताजीकिस्तान ने लगातार हमले करके बराबरी की कोशिश की लेकिन डिफेंस लाइन में आदिल खान ने कई अच्छे टैकल और बचाव किये। जहा आदिल अपने गेम से ताजीकिस्तान को रोके रख रहे थे वही डिफेंस लाइन के दूसरे छोर पर खड़े नरेंदर संघर्ष करते हुए नज़र आये, कई मौको पर भारत की रक्षा पंक्ति और गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू के बीच तालमेल की कमी भी दिखी। 11वे मिनट में उदांता ने शानदार दौड़ लगाते हुए एक अच्छा मूव बनाया लेकिन उनका पास समय से सुनील छेत्री के पास नहीं पहुंच पाया। 25वे मिनट में फिर से उदांता के क्रॉस पर सुनील छेत्री के पास हैटट्रिक करने का अच्छा मौका मिला था लेकिन उनका हैडर सीधे गोलकीपर के हाथो में गया। पुरे ही हाफ में अनिरुद्ध थापा, सहल अब्दुल और अमरजीत ने जहा मिडफ़ील्ड को मज़बूत बनाये रखा और नियमित अंतराल पर टीम के लिए मौके बनाते रहे वही राहुल भेके अपने डिफेंडर की भूमिका के साथ-साथ आगे बढ़कर हमले भी करते रहे, 40वे मिनट में राहुल भेके के मूव पर उदांता सिंह ने मंदार देसाई को एक शानदार क्रॉस दिया, मंदार ने सुनील छेत्री को गोल नज़दीक देखते हुए सीधे पास किया और कप्तान ने 2 डिफ़ेंडरो के बीच से बॉल निकलते हुए टीम का दूसरा गोल किया। पहले हाफ में और कोई अन्य गोल नहीं हुआ और मैच भारत के पक्ष में नज़र आता हुआ लगने लगा।

दूसरे हाफ की शुरुआत में ही कोच इगोर ने पहला बदलाव किया, उन्होंने विनीत राइ को अमरजीत सिंह की जगह मैच में उतारा। भारत ने अपनी पहले हाफ की शैली को बरक़रार रखा और 49वे मिनट में सहल अब्दुल के पास पर अनिरुद्ध थापा ने शॉट लगाने की अच्छी कोशिश की लेकिन उससे पहले ही ताजिक डिफेंडर ने उनसे बॉल छिन ली। 56वे मिनट में ताजिक फॉरवर्ड कॉमरॉन तुरुसनोव ने सीधे गोल की तरफ शॉट लगाया जिसे गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने पहली बार में तो रोक तो लिया लेकिन रिबाउंड पर कॉमरॉन ने गोल दागते हुए मैच को 2-1 पर ला दिया। इसके दो मिनट बाद ही ताजिक मिडफ़ील्ड से आये लॉन्ग पास को मंदार अवरोधित नहीं कर पाए और कॉमरॉन ने इसे आसानी से रोकते हुए शेरिददीन बोबोएव को क्रॉस दिया और शेरिददीन ने इसे सीधे गोल पोस्ट में डालते हुए मैच को बराबरी पर ला दिया। कोच इगोर ने तुरंत मंदार की जगह जेरी लॉरिन्ज़ुएला को फील्ड पर उतारा। 63वे मिनट में शेरिददीन ने फिर से अच्छा हमला किया और आदिल को छकाते हुए शॉट लगाया लेकिन इस बार उनका शॉट गोल की बाहरी नेट पर लगा। ताजीकिस्तान के लगातार हमले पूरी भारतीय टीम को परेशान करते रहे और इसका फायदा उन्हें मिला भी, 71वे मिनट में मुहम्मदजोन राहिमोव ने आदिल खान को छकाते हुए गुरप्रीत सिंह के पैरो के बिच से बॉल को गोल में डालकर ताजीकिस्तान को 3-2 की बढ़त पर ला दिया। 74वे मिनट में सहरोम सामिएव ने पानशानबे एहसानी के क्रॉस पर टीम का चौथा गोल किया। इसके बाद 78वे मिनट में रौलीन बोर्गेस को सहल अब्दुल की जगह फील्ड पर लाया गया और 81वे मिनट में ही रौलीन ने सुनील छेत्री के पास पर शानदार शॉट लिया लेकिन वह सीधा गोलकीपर के हाथ में गया, इसके बाद फारुख चौधरी को अनिरुद्ध थापा की जगह टीम में भेजा गया। 88वे मिनट में शहरोम ने नरेंदर को छकाते हुए शेरिददीन को क्रॉस दिया जिनके के शॉट को जेरी ने रोकते हुए ताजीकिस्तान का पांचवा गोल होने से रोक लिया। मैच के आखिरी मिनटों में सुनील छेत्री की जगह जोबी जस्टिन को टीम में लाया गया, इसके साथ जोबी ने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच में पदार्पण किया, लेकिन टीम को इसका कोई फायदा नहीं हुआ और मैच ताजीकिस्तान ने 4-2 से अपने नाम कर लिया।

यह पहला मौका जब भारतीय टीम, सुनील छेत्री के एक से ज़्यादा गोल करके के बावजूद भी नहीं जीत पायी हो वही ताजीकिस्तान की पिछले छह अंतर्राष्ट्रीय मैचों में यह पहली जीत है।

भारत अपना अगला मैच 13 जुलाई को उत्तर कोरिया के खिलाफ खेलेगी। जहा भारतीय मिडफील्ड लाइन संयोजित नज़र आ रही है वही कोच इगोर के लिए सबसे बड़ी परेशानी अभी डिफेंस को सुधारने में है।