Begin typing your search above and press return to search.

भारोत्तोलन

Commonwealth Games 2022: भारत को रजत पदक दिलाने वाले संकेत सरगर स्वभाव से है बेहद शर्मीले, जाने उनके बारे में कुछ खास बातें

संकेत ने पुरुषों के 55 किग्रा भारवर्ग मुकाबले में रजत पदक हासिल कर देश का नाम रौशन किया हैं

Commonwealth Games 2022: भारत को रजत पदक दिलाने वाले संकेत सरगर स्वभाव से है बेहद शर्मीले, जाने उनके बारे में कुछ खास बातें
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-07-30T17:56:28+05:30

राष्ट्रमंडल खेलों के दूसरे दिन भारतीय भरोत्तोलक संकेत सरगर ने भारत का खाता खोल दिया हैं। संकेत ने पुरुषों के 55 किग्रा भारवर्ग मुकाबले में रजत पदक हासिल कर देश का नाम रौशन किया हैं।

संकेत सरगर ने दो राउंड के 6 अटेंप में अपनी पूरी ताकत लगाई। उन्होंने पहले राउंड यानी स्नैच में सर्वश्रेष्ठ 113 किग्रा भार उठाया, इसके बाद दूसरे राउंड यानी क्लीन एंड जर्क में 135 किग्रा भार उठाकर रजत पदक अपने नाम कर लिया। वहीं मलेशिया के बिन कसदन मोहम्मद अनिक ने कुल 249 किग्रा भार उठाकर स्वर्ण हासिल किया हैं।


हालाकि दूसरे राउंड के आखिर दो अटेंप में संकेत चोटिल भी हुए, जिस कारण वह स्वर्ण जीतने से चूक गए।

रजत पदक जीतकर हीरो बन चुके संकेत स्वभाव से काफी शर्मीले हैं और मुकाबलों के दौरान अपनी टीम के सपोर्ट स्टाफ के अलावा किसी से बात नहीं करते हैं।

महाराष्ट्र के सांगली के रहने वाले संकेत पिता की पान की दुकान और खाने की दुकान में मदद करते हैं। लेकिन अब वह अपने पिता को आराम करते हुए देखना चाहते हैं। संकेत ने हाल ही में कहा था, ''अगर वह अगर मैं स्वर्ण जीत लेता हूं तो अपने पिता की मदद करूंगा। उन्होंने मेरे लिए काफी दुख उठाए हैं। मैं उन्हें अब खुशियां देना चाहता हूं।''


बेहद साधारण ग्रामीण परिवार से आने वाले संकेत कोल्हापुर के शिवाजी विश्वविद्यालय में इतिहास के छात्र हैं। संकेत सरगर को पिछले साल अक्तूबर में एनआईएस पटियाला में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना गया था। जिसके बाद संकेत ने 2020 के हुए संकेत ने खेलों इंडिया यूथ गेम्स और खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स में स्वर्ण पदक जीता था।

राष्ट्रीय स्तर पर कई सम्मान जीतने वाले संकेत महादेव सरगर भारत के स्टार भरोत्तोलक बन चुके हैं। उन्होंने पिछले साल ताशकंद में हुई चैम्पियनशिप 55 किग्रा स्नैच स्पर्धा में भी स्वर्ण पदक जीता था, जहां उन्होंने स्वर्ण के लिए 113 किग्रा भार उठाया था। इस लिफ्ट के साथ ही सरगर ने स्नैच का नया नेशनल रिकॉर्ड भी अपने नाम किया था।

संकेत का अगला लक्ष्य पेरिस ओलंपिक में स्वर्ण जीतना हैं।


Next Story
Share it