शुक्रवार, फ़रवरी 26, 2021
होम ताज़ा ख़बर एशियाई भारोत्तोलन चैंपियनशिप में मीराबाई चानू करेगी भारतीय दल का नेतृत्व

एशियाई भारोत्तोलन चैंपियनशिप में मीराबाई चानू करेगी भारतीय दल का नेतृत्व

भारत की स्टार भारोत्तोलन खिलाड़ी और 2017 विश्व चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता मीराबाई चानू 18 अप्रैल से चीन के निंगबो में शुरू हो रही एशियाई भारोत्तोलन चैम्पियनशिप में भारत की अगुवाई करेंगी। गौरतलब है कि इस एशियाई चैंपियनशिप में प्रदर्शन को देखकर ही 2020 टोक्यो ओलंपिक के क्वालीफाई करने का मौका मिलेगा। इससे पहले भारतीय टीम ने नवंबर में हुए पिछले क्वालीफायर्स विश्व चैम्पियनशिप में जूनियर टीम को भेजा था। उस समय सीनियर भरोत्तोलक रिहैब्लिटेशन पर थे।

भारत की तरफ से चीन में होने वाले एशियाई भारोत्तोलन चैंपियनशिप टीम में चार महिला और आठ पुरूष खिलाड़ी शामिल हैं। राष्ट्रमंडल खेलों में और युवा ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले सतीश शिवलिंगम और जेरेमी लालरिनुंगा भी इस टीम में मौजूद है।

बता दें कि राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता आर वी राहुल को रिजर्व खिलाड़ी के तौर पर रखा गया है जिनके टीम में शामिल करने पर अगले पांच दिनों में फैसला किया जाएगा। वहीं राष्ट्रमंडल खेलों में दो बार स्वर्ण पदक जीतने वाली संजीता चानू को टीम में जगह नहीं मिली है जिनपर 2017 में डोप परीक्षण में विफल रहने के लिए अनंतिम निलंबन लगाया गया था, जिसे जनवरी में अंतर्राष्ट्रीय भारोत्तोलन महासंघ ने हटा दिया था।

राष्ट्रीय कोच विजय शर्मा ने कहा। “संजीता शिविर में शामिल नहीं हुई, वह अभी भी मणिपुर में है। वह अपने
मामले के कारण बहुत
 सारे प्रशिक्षण से चूक गई है, इसलिए उन्होंने बाद में शिविर में शामिल होने का अनुरोध किया है।”

भारत की सबसे बड़ी पदक संभावना, मीराबाई ने पीठ के निचले हिस्से की चोट से मजबूत वापसी की थ जिसने
उन्हें लगभग नौ महीने तक बाहर रखा था। 24 वर्षीय मणिपुरी ने स्नैच में 82 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 110
किग्रा वजन उठाया था और फरवरी में ईजीएटी कप में 49 किग्रा के अपने नए वजन वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था।

“मीरा पूरी तरह से ठीक हो गई है और अच्छी तरह से प्रशिक्षण ले रही है। उन्होंने ओलंपिक से पहले 210 किग्रा का विश्व रिकॉर्ड तोड़ने का लक्ष्य रखा है, इसलिए हम उस कदम पर काम कर रहे हैं। एशियाई चैम्पियनशिप में, हमारा लक्ष्य 196 किलोग्राम से ऊपर जाने का है।” विजय शर्मा ने कहा।

भारत के पदक जीतने की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर, राष्ट्रीय कोच ने कहा, “पिछली बार हमने कोई पदक नहीं जीता था लेकिन इस बार हमें जीत मिलेगी।”

टीम:

पुरूष:सतीश शिवलिंगम (81 किग्रा), विकास ठाकुर (96 किग्रा), जेरेमी लालरिनुंगा(67 किग्रा), गुरदीप सिंह (101 किग्रा से अधिक), एम राजा (61 किग्रा), प्रदीप सिंह (102 किग्रा), अचिता शूली (73 किग्रा), अजय सिंह (81 किग्रा)।

रिजर्व: आर वी राहुल

महिला: मीराबाई चानू (49 किग्रा), झिल्ली दलबहेरा (55 किग्रा), स्वाति (59 किग्रा), राखी हलदर (64 किग्रा)।