Begin typing your search above and press return to search.

टेनिस

युकी भांबरी ने एकल टेनिस से लिया संन्यास, अब युगल पर देंगे ध्यान

युकी ने युगल मुकाबलों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए एकल टेनिस को अलविदा कह दिया है

Yuki Bhambri Tennis
X

युकी भांबरी

By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2023-01-05T14:02:35+05:30

साल 2009 में ऑस्ट्रेलियन ओपन में जूनियर एकल खिताब जीतकर इतिहास कायम करने वाले भारत के स्टार टेनिस खिलाड़ी युकी भांबरी का एकल टेनिस से मोहभंग हो गया है। युकी ने युगल मुकाबलों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए एकल टेनिस को अलविदा कह दिया है। कभी एकल टॉप 50 में जगह बनाने के दावेदार माने जा रहे 28 वर्ष के युकी टेनिस करियर को विस्तार देने के लिए एकल छोड़ने वाले सानिया मिर्जा के बाद दूसरे बड़े भारतीय खिलाड़ी हैं।

चोटों से परेशान युकी ने कुछ समय पहले ही मन बना लिया था कि अब वह सिर्फ युगल खेलेंगे। उन्होंने पीटीआई से बातचीत में कहा, "मैंने अपने एकल करियर में सबसे अच्छा किया है और मैं इसके साथ शांति से हूं। शायद चीजें गलत थीं, शायद यह दुर्भाग्य था, मुझे नहीं पता। मुझे कोई पछतावा नहीं है, मैं कुछ और नहीं कर सकता था"

"यह चोटों के कारण अधिक है, प्रायोजकों की कमी के कारण नहीं। प्रायोजक नहीं थे और मैं अपने पूरे करियर में अच्छा प्रदर्शन करने और दौरे पर जारी रखने के लिए भाग्यशाली था, लेकिन निश्चित रूप से, चोटें एक बड़ा कारक थीं।"

मैंने 2019 में तय कर लिया था कि मुझे युगल ही खेलना है

"मैंने 2019 में फैसला किया कि युगल मेरे लिए आगे का रास्ता था और मैं इसे करना चाहता था जबकि मैं अभी भी कुछ एकल खेलने में सक्षम था, जो मैंने पिछले साल किया था। मुझे चोट लग गई थी।"

"मैं 2021 में वापस आ गया हूं और मैंने जो पहले 2-3 टूर्नामेंट खेले हैं वे संरक्षित रैंकिंग का उपयोग कर रहे है। फिर मैं अमेरिका गया और कोविड हो गया और मैं फिर से घायल हो गया, इसलिए योजना हमेशा बनी रही लेकिन इसमें देरी हो गई।"

"दिन के अंत में लक्ष्य एकल ग्रैंड स्लैम चैंपियन बनना है। डबल ग्रैंड स्लैम चैंपियन बनने के लिए कोई भी टेनिस रैकेट नहीं चुनता है। जब तक मैं कर सकता था मैंने सिंगल्स खेला लेकिन यह मेरे लिए बहुत स्टार्ट-स्टॉप, स्टार्ट-स्टॉप था और मैं अपने करियर के बाद के चरण में नहीं रहना चाहता था जहां डबल्स खेलने और शुरुआत करने के लिए बहुत देर हो चुकी हो।

सात एकल चैलेंजर खिताब जीतने वाले युकी ने कहा, "33 या 35 साल की उम्र में चोटिल होने के कारण मैं फ्यूचर्स खेलने के लिए वापस नहीं आ सकता था क्योंकि आप शीर्ष स्तर पर खेलना चाहते हैं।"

युकी ने आगे कहा कि यह काफी तेज रफ्तार खेल है। दो मिनट के भीतर पूरा मैच बदल जाता है।आपको सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होता है। कार्यभार भी अलग है लेकिन शारीरिक रूप से युगल मैच एकल जैसा थकाऊ नहीं है। युकी इस समय महाराष्ट्र ओपन टेनिस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं।

युकी ने साथी भारतीय साकेत मैनीनी के साथ भागीदारी की है। 2021 में, उन्होंने एक साथ पांच चैलेंजर खिताब जीते और छोटे आईटीएफ सर्किट पर कुछ खिताबों के साथ साल की शुरुआत करने के बाद एटीपी टूर पर कुछ सेमीफाइनल में जगह बनाई।


Next Story
Share it