बुधवार, सितम्बर 23, 2020
होम टेबल टेनिस मेरा लक्ष्य भारत को ओलंपिक में मेडल दिलाना है- जी साथियान

मेरा लक्ष्य भारत को ओलंपिक में मेडल दिलाना है- जी साथियान

भारतीय टेबल टेनिस टीम ने साल 2019 में अपने शानदार प्रदर्शन से हर किसी को अपना मुरीद बना दिया। इस खेल में कई युवा खिलाड़ी आएं जिन्होंने अपने प्रदर्शन से बताया कि भारत इस खेल में किसी से कम नहीं है। भारत के उभरते स्टार टेबल टेनिस खिलाड़ी जी साथियान ने अपने प्रदर्शन से देश का नाम रोशन किया।

साल 2018 में राष्ट्रमंडल और फिर एशियाई खेलों में टेबल टेनिस टीम ने अच्छे प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया। इसके बाद जी साथियान जैसे खिलाड़ी ने शीर्ष स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करके इस खेल को भारतीय जनता के बीच और लोकप्रिय बनाया। भारत के जी साथियान ने टॉप-25 में अपनी जगह स्थापित की है। उन्होंने जापान के पांचवें नंबर के किशोर हरिमोतो तोमोकाजू सहित विश्व रैंकिंग में शीर्ष 20 में शामिल खिलाड़ियों को हराया।

जी साथियान ने 24 जुलाई को आईटीटीएफ विश्व रैकिंग में शीर्ष 25 में शामिल होने वाले पहला भारतीय खिलाड़ी बने। साथियान एशियाई कप में छठे स्थान पर रहे जिससे वह विश्व कप के लिए क्वॉलिफाइ करने में सफल रहे। विश्व कप में अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहकर उन्होंने मुख्य ड्रॉ में जगह बनाई।

जी साथियान के इस शानदार प्रदर्शन को देखते हुए द ब्रिज की टीम ने उनसे खास बातचीत की। जिसमे उनके 2019 शानदार तरीके से बीतने और इस साल होने वाले 2020 टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों को लेकर बातचीत की गई।

द ब्रिज– विश्व कप में आप अच्छा प्रदर्शन करते हुए 8वें स्थान पर रहे क्या कहना चाहेंगे इसके बारे में?

जी.साथियान: ये प्रतियोगिता मेरे लिए काफी अच्छा रही । काफी कुछ सीखा यहां से, विश्व के टाप खिलाड़ियों के खिलाफ मुझे हार का सामना करना पड़ा जिसको लेकर मुझे कोई मलाल नहीं है। उम्मीद है कि इसी लय को जारी रखते हुए मैं ओलंपिक में अच्छा प्रदर्शन करूंगा।

द ब्रिज– क्या आपने उम्मीद की थी कि शुरूआती दौर में ही आपको इन विश्व के शीर्ष खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिलेगा?

जी.साथियान: मुझे उम्मीद थी कि मुझे शीर्ष खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिलेगा क्योंकि विश्व कप में मेरी रैंकिंग 18वें पर थी। मैं इन खिलाड़ियों को ध्यान में रखते हुए चेन्नई में अभ्यास कर रहा था अपने कोच रामन सर और चाइनीज पार्टनर के साथ। मैंने इस प्रतियोगिता के लिए चीन के खिलाड़ी को यहां बुलाया था। मुझे अपने ऊपर भरोसा था कि मैं अच्छा प्रदर्शन करूंगा और मैंने किया भी। अच्छा रहता अगर मैं इस प्रतियोगिता को जीत पाता लेकिन कोई बात नहीं अगली बार मेरा लक्ष्य इस प्रदर्शन को और अच्छा करने पर होगा।

यह भी पढ़ें:टेबल टेनिस विश्व कप: साथियान जी प्री क्वार्टर फाइनल में हारे, भारतीय चुनौती समाप्त

द ब्रिज– आप शीर्ष-30 में जगह बनाने में कामयाब रहें वहीं भारतीय पुरूष टीम 8वें पायदान पर पहुंच गई है क्या कहना चाहेंगे इसके बारे में?

जी.साथियान: भारतीय टेनिस हर दिन नई ऊचाइंयो पर पहुंच रही है। मुझे खुशी है कि मैं अपनी टीम को यहां तक पहुंचाने में कामयाब रहा और भविष्य में यहां से और आगे ले जानें पर लक्ष्य रहेगा। आज जिस जगह भारतीय टेनिस पहुंच पायी है उसमें पेशेवर लीग का भी अहम योगदान रहा है। आने वाले दिनों में और बहुत सारी खुशियां भारतीय प्रशंसको को हम देने वाले हैं।

द ब्रिज– आपका अगला लक्ष्य क्या होने वाला है?

जी.साथियान: मेरा अगला लक्ष्य भारत को ओलंपिक में पदक दिलाना है। भले ही मेडल का रंग कोई भी हो। भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों और एशियन गेम्स में अच्छा प्रदर्शन किया है। हम इसी लय को ओलंपिक में बरकरार रखना चाहेंगे।