मंगलवार, अक्टूबर 20, 2020
होम टेबल टेनिस भारतीय पुरुष टेबल टेनिस टीम ने रचा इतिहास, अब तक की सर्वश्रेष्ठ...

भारतीय पुरुष टेबल टेनिस टीम ने रचा इतिहास, अब तक की सर्वश्रेष्ठ नौवीं रैंक हासिल की

भारतीय पुरुष टेबल टेनिस टीम ने नया कीर्तिमान स्थापित किया है। भारतीय पुरुष टेबल टेनिस टीम ने नौवीं रैंकिंग हासिल की है, जो कि उनकी अब तक की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग है। अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस फेडरेशन (ITTF) ने 4 नवंबर को नयी रैंकिंग जारी की जिसमें चीन ने 290 अंको के साथ शीर्ष स्थान पर कब्जा जमाया। इस सूची में जापान और जर्मनी क्रमशः दूसरे और तीसरे पायदान पर हैं। जापान के 288 अंक हैं तो दूसरी तरफ जर्मनी के 286 अंक हैं। भारतीय पुरुष टीम 272 अंको के साथ नौवें पायदान पर स्थित है।

साथियान जी और अचंता शरथ कमल की अगुवाई में भारतीय पुरुष टीम ने पिछले कुछ समय से लगातार बेहतर प्रदर्शन किया है। उल्लेखनीय है कि भारतीय पुरुष टीम ने पिछले साल राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया था। राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय पुरुष टीम ने क्वार्टर फाइनल में मलेशिया जबकि सेमीफाइनल में सिंगापुर को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। खिताबी मुकाबले में भारतीय टीम ने नाइजीरिया को हराकर इतिहास रच दिया था।

इसके बाद वर्ल्ड टेबल टेनिस टीम चैंपियनशिप हैल्मस्टैड में भी पुरुष टीम ने 13वां स्थान हासिल किया था। इसके बाद एशियाई खेलों में भारतीय पुरुष टीम ने तीसरा स्थान हासिल किया। एशियाई खेलों में भारतीय पुरुष टीम ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में जापान को 3-1 से हराया था लेकिन सेमीफाइनल में दक्षिण कोरिया ने भारत के सुनहरे सफर को खत्म कर दिया था। गौरतलब हो कि सेमीफाइनल में कोरिया ने भारत को 3-0 से हराया था।

Image result for sathiyan gnanasekaran
साथियान जी

भारतीय पुरुष टीम ने साल 2019 में भी अपने शानदार प्रदर्शन को जारी रखा और कटक में अपनी राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस चैम्पियनशिप का बचाव किया। फाइनल में इंग्लैंड से कड़ी चुनौती मिलने के बावजूद भारत ने इंग्लिश टीम पर 3-2 से जीत दर्ज की। यह उनका लगातार दूसरा और कुल तीसरा ख़िताब था। इससे पहले 2015 में सूरत में हुए आखिरी संस्करण में भी भारतीय टीम ने खिताब जीता था। सबसे पहले साल 2004 में भारतीय टीम ने इस प्रतिष्ठित खिताब को अपने नाम किया था।

इसके बाद पुरुषों की टीम ने सितंबर में एशियाई टेबल टेनिस चैंपियनशिप में अपना दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और पांचवा स्थान हासिल किया। निरंतर बेहतरीन प्रदर्शनों का परिणाम सोमवार को जारी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग के रूप में सामने आया है और यहां से भारतीय टीम के आगे बढ़ने की उम्मीद की जा सकती है।