शुक्रवार, अक्टूबर 30, 2020
होम ताज़ा ख़बर एशियन एज ग्रुप तैराकी चैंपियनशिप में भारत ने लगाया पदकों का अर्धशतक,...

एशियन एज ग्रुप तैराकी चैंपियनशिप में भारत ने लगाया पदकों का अर्धशतक, दिव्या ने बनाया राष्ट्रीय कीर्तिमान

बेंगलुरु के पादुकोण-द्रविड़ स्पोर्ट्स सेंटर में चल रही 10वीं एज ग्रुप एशियन तैराकी चैंपियनशिप शुक्रवार को ख़त्म हो गई, जहां भारत ने 15 गोल्ड, 19 रजत और 18 कांस्स ते साथ कुल 52 पदक हासिल किए। इस तरह से भारत ने 2017 में ताशकंत में हुई एशियन एज ग्रुप तैराकी चैंपियनशिप के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ डाला। चौथे और आख़िरी दिन भारत को तीन गोल्ड मेडल मिले।

जानिए कैसा रहा था इस चैंपियनशिप में भारत के लिए पहला दिन

श्रीहरि नटराज ने 200 मीटर बैक स्ट्रोक इवेंट में 2:04:25 की टाइमिंग के साथ स्वर्ण पदक हासिल किया। जबकि वीरधवल खड़े ने भी अपने गोल्ड मेडल के आंकड़ों में चौथे दिन भी इज़ाफ़ा किया। उन्होंने 50 मीटर बटरफ़्लाई इवेंट में 24.22 की टाइमिंग के साथ गोल्ड जीता, तो वहीं हिन्दुस्तान को शुक्रवार को तीसरा गोल्ड पुरुष 4X200 मीटर टीम रिले में हासिल हुआ।

जानिए कैसा रहा था इस चैंपियनशिप में भारत के लिए दूसरा दिन

चौथे और आख़िरी दिन की सुर्ख़ियां भारतीय महिला तैराक दिव्या सतिजा ने बटोरी जब उन्होंने 50 मीटर ओपन बटरफ़्लाई कैटेगिरी में 28.27 के साथ इसे ख़त्म किया और अपने ही रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। दिव्या ने इसी महीने की शुरुआत में अपने बनाए 28.33 के रिकॉर्ड को तोड़ डाला। इस चैंपियनशिप में ओपन कैटेगिरी के इस इवेंट का किसी भी भारतीय द्वारा ये सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

वीरधवल खड़े और दिव्या सतिजा

जानिए कैसा रहा था इस चैंपियनशिप में भारत के लिए तीसरा दिन

‘’मेरा सारा ध्यान इसी इवेंट पर था, और ये मेरी पहली अंतर्राष्ट्रीय चैंपियनशिप भी थी, मैं पूरे उत्साह के साथ पानी में उतरी और अपना सर्वश्रेष्ठ दिया। मैं बिल्कुल भी डरी हुई नहीं थी, मेरे दिमाग़ में बस यही चल रहा था कि मैं भारत का प्रतिनिधित्व कर रही हूं। हालांकि मुझे अभी भी बहुत सुधार की ज़रूरत है, अगर मेरी शुरुआत अच्छी होती है तो मैं और भी बेहतर कर सकती हूं।‘’ : दिव्या सतिजा, भारतीय तैराक

इस चैंपियनशिप का सार निकाला जाए तो भारत ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया लेकिन भारत के लिए निराशाजनक ये रहा कि इस चैंपियनशिप से किसी भी भारतीय तैराक ने ओलंपिक में क्वालिफ़ाई करने के लिए ज़रूरी कट A टाइमिंग हासिल नहीं की।