Begin typing your search above and press return to search.

निशानेबाजी

आईएसएसएफ विश्व कप के अंतिम दिन स्वप्निल-आशी ने जीता देश के लिए दूसरा स्वर्ण, टूर्नामेंट में दूसरे स्थान पर रहा भारत

यह भारत का प्रतियोगिता में दूसरा स्वर्ण पदक है

Swapnil Kusali Ashi Chouksey
X

 स्वप्निल-आशी

By

Amit Rajput

Updated: 2022-06-04T18:04:26+05:30

अजरबैजान के बाकू में चल रहा आईएसएसएफ विश्व कप शनिवार को समाप्त हो गया। टूर्नामेंट के अंतिम दिन ने भारत के निशानेबाजों ने एक स्वर्ण पदक जीता। देश के लिए स्वप्निल-आशी ने 50 मीटर राइफल 3पी मिश्रित टीम वर्ग में स्वर्ण पदक जीता। यह भारत का प्रतियोगिता में दूसरा स्वर्ण पदक है। इसके पहले इलावेनिल वलारिवन, श्रेया अग्रवाल और रमिता की तिकड़ी ने 10 मीटर एयर राइफल महिला टीम में स्वर्ण पदक जीता था। इसी के साथ भारत ने टूर्नामेंट पदक तालिका में दो स्वर्ण, तीन रजत पदक के साथ कोरिया के बाद दूसरे स्थान पर खत्म किया।

भारत की मिश्रित टीम स्वप्निल और आशी ने स्पर्धा के क्वालीफिकेशन के पहले चरण में 900 में से 881 का स्कोर बनाया और 31 टीमें के प्रतियोगिता में चौथे स्थान पर रहते हुए दूसरे चरण के लिए क्वालीफाई किया। दूसरे चरण में जगह बनाने वाली आठ टीमें में यूक्रेन की जोड़ी दूसरे स्थान पर रही। दूसरे चरण में भारतीय जोड़ी 600 में से 583 के प्रयास के साथ दूसरे स्थान पर रही, इसमें यूक्रेन की टीम ने शीर्ष स्थान हासिल किया।

फाइनल में यूक्रेन को किया परास्त

फाइनल में, यूक्रेन ने मजबूत शुरुआत की और पहली चार एकल-शॉट श्रृंखला के बाद 6-2 की बढ़त बना ली। लेकिन भारतीय जोड़ी ने शानदार वापसी करते हुए अगली आठ सीरीज में से छह जीतकर स्कोर को 14-10 से अपने पक्ष में कर लिया। यूक्रेन की सेरही और डारिया की जोड़ी ने इसके बाद दो अंक हासिल किया लेकिन यह जीत के लिए काफी नहीं था। जिसके कारण उन्हें स्पर्धा में रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा और भारत की मिश्रित टीम ने स्वर्ण पदक जीता।

साल के दूसरे विश्व कप में लिया हिस्सा

आपको बता दें कि इस साल यह भारत का दूसरा आईएसएसएफ राइफल विश्व कप था। इस विश्व कप के पहले भारतीय निशानेबाजों ने साल की शुरुआत में काहिरा में आयोजित पहले विश्व कप चरण में शीर्ष स्थान हासिल किया था। इसके बाद अप्रैल में रियो विश्व कप में राइफल और पिस्टल टीमों ने भाग नहीं लिया था। इस विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व 12 सदस्यीय राइफल दस्ते ने किया। शॉटगन टीम ने विश्व कप के दो चरणों में भी भाग लिया और दोनों में पदक हासिल किये।अब इस साल के अंत में होने वाली विश्व चैंपियनशिप से पहले तीनों टीमें अगले महीने चांगवोन विश्व कप के चौथे और अंतिम चरण में खेलती नजर आएंगी।

Next Story
Share it