Begin typing your search above and press return to search.

निशानेबाजी

जूनियर निशानेबाजी विश्व कप में शुक्रवार का दिन भारत के लिए रहा स्वर्णिम दिन, जीते 4 स्वर्ण पदक

अब चैंपियनशिप में भारत के आठ स्वर्ण और छह रजत के साथ कुल 14 पदक हो गये हैं

Rudrankksh Patil, Paarth Makhija and Umamahesh Maddineni
X

रूद्रांक्ष पाटिल, पार्थ मखिजा और उमामहेश मादीनेनी स्वर्ण पदक के साथ 

By

Amit Rajput

Published: 14 May 2022 10:27 AM GMT

जर्मनी के सुहल में चल रहे जूनियर निशानेबाजी विश्व कप में शुक्रवार का दिन भारत के लिए स्वर्णिम दिन रहा , जहां शुक्रवार को भारतीय निशनेबाज़ो ने महिला और पुरूष एयर राइफल और पिस्टल टीम स्पर्धाओं में चार और स्वर्ण पदक जीते। इसी के साथ अब चैंपियनशिप में भारत के आठ स्वर्ण और छह रजत के साथ कुल 14 पदक हो गये हैं। वही भारत के अलावा शुक्रवार को आस्ट्रेलिया, फ्रांस, पोलैंड और बुल्गारिया ने स्पर्धा में दाव पर लगे चार स्वर्ण पदक जीते।

10 मीटर एयर राइफल में दोनों वर्ग में स्वर्ण जीते

दिन की शुरुआत में देश के लिए सबसे पहला स्वर्ण पदक पुरूष 10 मीटर एयर राइफल में रूद्रांक्ष पाटिल, पार्थ मखिजा और उमामहेश मादीनेनी की तिकड़ी ने स्पेन को 16-8 से हराकर जीता। जहां रूद्रांक्ष और पार्थ दोनों के लिये प्रतियोगिता का दूसरा स्वर्ण पदक था। इसके बाद देश के लिए दूसरा स्वर्ण पदक 10 मीटर एयर राइफल महिला टीम स्पर्धा से मिला। जहां आर्या बोरसे, जीना खिट्टा और रमिता की तिकड़ी ने कोरिया को 17-9 से हराया।

पिस्टल में भी जीते स्वर्ण पदक

मनु भाकर, पलक और ईशा सिंह की तिकड़ी ने जूनियर महिला 10 मीटर एयर पिस्टल टीम स्पर्धा में जार्जिया को भी 16-8 के समान अंतर से पराजित किया और देश के लिए दिन का तीसरा स्वर्ण पदक जीता।

इसके बाद दिन का चौथा और अंतिम स्वर्ण पदक पुरूष एयर पिस्टल टीम ने दिलाया, जिसमें सौरभ चौधरी, शिवा नरवाल और सरबजोत सिंह ने उज्बेकिस्तान की तिकड़ी को 17-9 से पराजित किया।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it