Begin typing your search above and press return to search.

निशानेबाजी

निशानेबाज़ी : म्यूनिख विश्व कप में मनु ने भारत को दिलाया ओलिंपिक का टिकट

निशानेबाज़ी : म्यूनिख विश्व कप में मनु ने भारत को दिलाया ओलिंपिक का टिकट
X
By

Anshul Chavhan

Updated: 2022-04-25T01:04:52+05:30

उभरती निशानेबाज़ मनु भाकर ने टोक्यो 2020 ओलंपिक्स के लिए भारत को एक और टिकट दिला दिया है। उन्होंने महिलाओ की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में चौथे स्थान पर रहते हुए भारत के लिए निशानेबाज़ी का सातवां कोटा हासिल किया।

दो दिन पूर्व 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में दुर्भाग्यवश बाहर होने की असफलता को पीछे छोड़ते हुए मनु क्वालिफिकेशन राउंड से ही पदक और ओलिंपिक कोटा के लिए अपनी दावेदारी मज़बूती से पेश कर चुकी थी।

क्वालिफिकेशन राउंड में मनु ने 582 के स्कोर के साथ तीसरे स्थान पर रहते हुए क्वालीफाई किया था। यह मनु का अपना सर्वश्रेष्ठ क्वालिफिकेशन स्कोर रहा है। यशस्विनी सिंह देसवाल भी फाइनल में अपने स्थान मज़बूत करने की दिशा में बढ़ रही थी लेकिन आखिरी सीरीज में उनके कमज़ोर प्रदर्शन की वजह से उन्हें 574 स्कोर के साथ 22 वे स्थान से संतोष करना पड़ा, अनुभवी निशानेबाज़ हिना सिधु 570 के स्कोर के साथ 45 वे स्थान पर रही थी। फाइनल में मनु को 201.0 के स्कोर के साथ चौथे स्थान पर रही और वर्तमान ओलिंपिक एवं विश्व चैंपियन ग्रीस की एना कोराकाकी से 0.1 से पदक जितने से चूक गयी। चूँकि कोराकाकी और दक्षिण कोरिया की कांस्य पदक विजेता किम मिनजुंग ने पहले से ही ओलिंपिक खेलो के लिए क्वालीफाई कर लिया था इसलिए मनु को उपलब्ध 2 कोटा में से एक कोटा हासिल हुआ, चीन की रजत पदक विजेता किआन वेई ने दूसरा कोटा अपने देश के लिए हासिल किया।

महिलाओ की 50 मीटर राइफल 3 पोजीशन स्पर्धा के क्वालिफिकेशन राउंड में सुनिधि चौहान ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 1175 के स्कोर के साथ नौवे स्थान पर रही और फाइनल में जगह बनाने से चूक गयी, छठे, सातवे और आठवे स्थान पर रही निशानेबाज़ों को स्कोर भी सुनिधि के बराबर ही था लेकिन सुनिधि के इनर 10s बाकि खिलाड़ियों की तुलना में कम थे। सुनिधि की साथी निशानेबाज़ गायत्री और काजल, 1162 और 1140 के स्कोर के साथ 52 वे और 70 वे स्थान पर रही।

पुरुषो की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में अर्पित गोयल 577 के साथ 21 वे, आदर्श सिंह 571 के साथ 41 वे और अनीश भानवाला 567 के साथ 47 वे पर रहे और फाइनल में जगह बनाने से चूक गए।

इससे एक दिन पूर्व पुरुषो की 10 मीटर एयर राइफल में भी कोई भी भारतीय निशानेबाज़ फाइनल में जगह नहीं बना पाया। 628.3 के स्कोर के साथ दीपक कुमार क्वालफिकेशन में 19 वे स्थान पर रहे, वही बीजिंग विश्व कप के रजत पदक विजेता दिव्यांश सिंह पंवार 627.6 और रवि कुमार 621.4 के स्कोर के साथ क्रमशः 31 वे और 86 वे स्थान पर रहे।

भारत के निशानेबाज़ म्युनिक विश्व कप से अब तक 3 स्वर्ण और 2 ओलिंपिक कोटा हासिल कर चुके है। प्रतियोगिता के अंतिम दिन मिश्रित 10 मीटर एयर पिस्टल और 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धाएं होगी।

Next Story
Share it