Begin typing your search above and press return to search.

पैरा खेल

एशिया ओशिनिया पैरा पॉवरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में भारत ने जीते 6 स्वर्ण सहित 22 पदक

भारत ने छह स्वर्ण सहित 22 पदकों के साथ पदक तालिका में चीन के बाद दूसरे स्थान पर अपने अभियान को खत्म किया

Joby Matthew Para Powerlifting
X

जॉबी मैथ्यू 

By

Amit Rajput

Updated: 2022-06-22T17:00:01+05:30

दक्षिण कोरिया के प्योंगटेक में चल रहे एशिया ओशिनिया पैरा पॉवरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में भारतीय पावरलिफ्टिरो का शानदार प्रदर्शन जारी रहा। जहां चैंपियनशिप में अंतिम दिन भारत के लिए पावरलिफ्टिंरों ने दो स्वर्ण पदक जीते। इसी के साथ भारत ने छह स्वर्ण सहित 22 पदकों के साथ पदक तालिका में चीन के बाद दूसरे स्थान पर अपने अभियान को खत्म किया।

चैपियनशिप के अंतिम दिन अशोक ने एशिया और ओपन स्पर्धाओं में पुरुषों के 65 किग्रा (कुल स्कोर) में दो स्वर्ण अपने नाम किये और अशोक ने एशियाई पैरालंपिक खेलों के लिए क्वालीफाई किया। जबकि जॉबी मैथ्यू ने मास्टर एशिया और ओपन स्पर्धाओं में पुरुषों के 59 किग्रा (सर्वश्रेष्ठ लिफ्ट और कुल स्कोर) में चार रजत पदक जीते। वही को व्यक्तिगत स्पर्धाओं के अंतिम दिन सुधीर ने जॉर्डन के पैरालंपिक और विश्व चैंपियन अब्देलकरीम खत्ताब (241 किग्रा) और चीन के जिक्सियोंग ये (233 किग्रा) के बाद 214 किग्रा के सर्वश्रेष्ठ प्रयास के साथ पुरुषों के 88किग्रा में कांस्य पदक अपने नाम किया।

चैंपियनशिप में भारतीय टीम ने कुल मिलाकर 6 स्वर्ण, 4 रजत और 12 कांस्य पदक जीते। चीन 21 स्वर्ण सहित 29 पदकों के साथ शीर्ष पर रहा। अशोक और सुधीर अब परमजीत कुमार (49 किग्रा से कम पुरुष) और सकीना खातून (45 किग्रा से कम महिला) के साथ हांगझोऊ एशियाई पैरा खेलों में भाग लेंगे। वहीं आपको बता दें कि राष्ट्रमंडल खेलों में पैरा पावरलिफ्टिंग स्पर्धा में भारत का प्रतिनिधित्व परमजीत, खातून, सुधीर, गीता और मनप्रीत कौर बर्मिंघम करेंगे।

Next Story
Share it