Begin typing your search above and press return to search.

अन्य

आईओए की पहली महिला अध्यक्ष बनी पीटी उषा, रचा इतिहास

आईओए के 95 साल के इतिहास में उषा अध्यक्ष बनने वाली पहली ओलंपियन और पहली अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता हैं।

आईओए की पहली महिला अध्यक्ष बनी पीटी उषा, रचा इतिहास
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-12-10T17:33:27+05:30

भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए 'उड़न परी' के नाम से मशहूर भारतीय दिग्गज धाविका पीटी उषा को पहली महिला अध्यक्ष के रूप में चुना हैं।

भारत के लिए एशियाई खेलों में कई पदक जीतने वाली पीटी उषा को चुनाव के बाद अध्यक्ष पद के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया। स्टार एथलीट के अध्यक्ष बनने की प्रक्रिया चुनाव उच्चतम न्यायालय से नियुक्त किए गए सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व जज नागेश्वर राव की देखरेख में पूरी हुई।

आईओए के 95 साल के इतिहास में वह अध्यक्ष बनने वाली पहली ओलंपियन और पहली अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता हैं। हालाकि उषा का शीर्ष पद पर चुना जाना पिछले महीने ही तय हो गया था क्योंकि वह अध्यक्ष पद के लिए नामांकन करने वाली एकमात्र प्रत्याशी थी। किसी ने भी उषा का विरोध नहीं किया।

खास बात है कि उषा को जुलाई के महीने में सत्ताधारी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा के लिए नामित किया था। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा था।

उषा की पहचान की बात करें तो 2000 में संन्यास लेने से पहले उन्होंने भारतीय और एशियाई एथलेटिक्स में दो दशक तक अपना दबदबा बनाया था।

उषा देश का प्रतिनिधित्व करने वाले पहली खिलाड़ी हैं। इसके साथ ही वह महाराजा यादवेंद्र सिंह के बाद आईओए प्रमुख बनने वाली पहली खिलाड़ी भी हैं।

Next Story
Share it