Begin typing your search above and press return to search.

अन्य

गुजरात में होने वाले राष्ट्रीय खेलों में शीर्ष खिलाड़ियों की भागीदारी के लिए आईओए ने लिखा पत्र

गुजरात में होने वाले राष्ट्रीय खेलों में 28 राज्यों और आठ केंद्र शासित प्रदेशों के लगभग सात हजार खिलाड़ियों के 36 प्रतियोगिताओं में भाग लेने की उम्मीद है जिनमें अधिकांश पारंपरिक ओलंपिक खेल शामिल हैं।

गुजरात में होने वाले राष्ट्रीय खेलों में शीर्ष खिलाड़ियों की  भागीदारी के लिए आईओए ने लिखा पत्र
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-09-07T17:46:35+05:30

गुजरात में आयोजित होने वाले 36वें राष्ट्रीय खेलों में भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने मंगलवार को अपनी राज्य इकाइयों और राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) से 36वें राष्ट्रीय खेलों में देश के शीर्ष खिलाड़ियों की भागीदारी सुनिश्चित करने को कहा।

29 सितंबर से 13 अक्टूबर के बीच होने वाले राष्ट्रीय खेलों को अहमदाबाद, गांधीनगर, सूरत, वडोदरा, राजकोट और भावनगर 2015 के बाद आयोजित होने वाले राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करेंगे जबकि ट्रैक साइकिलिंग स्पर्धाएं नई दिल्ली में होंगी।

आईओए ने सभी एनएसएफ और राज्य ओलंपिक संघों को लिखे पत्र में कहा, ''राष्ट्रीय खेलों के महत्व को सुनिश्चित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय खेलों और चैंपियनशिप में भाग लेने/पदक जीतने वाले सभी योग्य प्रतिष्ठित खिलाड़ियों का 36वें राष्ट्रीय खेलों में प्रतिस्पर्धा करना आवश्यक हैं।''

महासचिव राजीव मेहता ने कहा, ''खेल संघों और राज्य ओलंपिक संघों से अनुरोध है कि वे अपने खेल और राज्यों का प्रतिनिधित्व करने के लिए खिलाड़ियों का चयन करते समय इसे ध्यान में रखें।''

उन्होंने कहा, "आईओए, एनएसएफ और राज्य edओलंपिक संघों का तहेदिल से समर्थन और सहयोग राष्ट्रीय खेलों को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।"

मेहता ने आगे कहा, "एनएसएफ आईओए को बताएंगे कि देश के शीर्ष खिलाड़ियों में से कौन राष्ट्रीय खेलों के लिए उपलब्ध है। मैंने एनएसएफ से पूछा है और वे जवाब देंगे कि शीर्ष खिलाड़ियों में से कौन उपलब्ध है और कौन नहीं। हम उसके बाद देखेंगे।"

बता दें गुजरात में होने वाले राष्ट्रीय खेलों में 28 राज्यों और आठ केंद्र शासित प्रदेशों के लगभग सात हजार खिलाड़ियों के 36 प्रतियोगिताओं में भाग लेने की उम्मीद है जिनमें अधिकांश पारंपरिक ओलंपिक खेल शामिल हैं। खास बात है कि मल्लखंब और योगासन जैसे स्वदेशी खेल भी पहली बार राष्ट्रीय खेलों में शामिल होंगे।

Next Story
Share it