Begin typing your search above and press return to search.

अन्य

हरियाणा सरकार ने खिलाड़ियों को लेकर लिया बड़ा फैसला,अब खिलाड़ियों को नहीं करना होगा भुगतान

अब राज्य भर के स्टेडियमों या खेल परिसरों में अभ्यास के लिए आने वाले खिलाड़ियों से ली जाने वाली फीस अब खिलाड़ियों को नहीं देनी होगी

Haryana sports
X
By

Amit Rajput

Updated: 2022-04-26T16:28:35+05:30

देश में सबसे ज्यादा एथलीट और अन्य खेलों के खिलाडी हरियाणा राज्य से आते है फिर चाहे वो कुश्ती या फिर अन्य खेलों में हो। अब हरियाणा सरकार ने नेशनल स्तर के खेल खिलाड़ियों को लेकर एक बड़ा फैसला किया है। अब राज्य भर के स्टेडियमों या खेल परिसरों में अभ्यास के लिए आने वाले खिलाड़ियों से ली जाने वाली फीस अब खिलाड़ियों को नहीं देनी होगी। हरियाणा सरकार ने यह फैसला लिया है। खेल एवं युवा मामलों के राज्य मंत्री सरदार संदीप सिंह ने खुद इसकी पुष्टि की। जनसंपर्क एवं सूचना विभाग ने भी इस बारे में जानकारी दी।

खेल मंत्री ने दी सूचना

खेल मंत्री संदीप सिंह ने बताया कि अब हरियाणा ओलंपिक एसोसिएशन के तहत आने वाली खेल एसोसिएशन या फेडरेशन को भी खेल टूर्नामेंट जैसे स्टेट चैंपियनशिप या नेशनल चैंपियनशिप आयोजित करने के लिए किसी प्रकार की फीस का भुगतान नहीं करना होगा। हालांकि, निजी संस्थाओं को खेल स्टेडियम का उपयोग करने के लिए विभाग द्वारा निर्धारित फीस अवश्य देनी होगी।

खेलों का हब बनेगा हरियाणा

इसके अतिरिक्त राज्य में खिलाड़ियों को खेलों की तैयारी के लिए 5 लाख रुपये की राशि एडवांस भी दी जाती है। इस बारे में मंत्री का कहना है कि, इस पहल से भी हरियाणा की पहचान खेलों व खिलाड़ियों के हब के रूप में बनी है। मंत्री ने कहा कि, राज्य सरकार की नीतियों के परिणास्वरूप ही प्रदेश के खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल स्पर्धाओं में मेडल जीतकर हरियाणा के साथ-साथ भारत का नाम भी विश्व मानचित्र पर दर्शाया है। ओलंपिक व पैरालंपिक-2021 इसका जीवंत उदाहरण हैं कि कैसे हरियाणा खेलों के क्षेत्र में अन्य राज्यों के लिए पथ प्रदर्शक बनकर उभर रहा है।

Next Story
Share it