Begin typing your search above and press return to search.

तीरंदाजी

तीरंदाज़ी विश्व कप एवं तीरंदाज़ी विश्व चैंपियनशिप के लिए भारतीय दल का चयन

तीरंदाज़ी विश्व कप एवं तीरंदाज़ी विश्व चैंपियनशिप के लिए भारतीय दल का चयन
X
By

Anshul Chavhan

Updated: 2022-04-25T02:19:34+05:30

नीदरलैंड के डेनबॉश शहर में होनेवाली 2019 हुंडई विश्व तीरंदाज़ी चैंपियनशिप के लिए भारतीय दल का चयन हो चुका है। महिला रिकर्व दल में अनुभवी दीपिका कुमारी एवं लैशराम बोम्बाल्या देवी के साथ 17 वर्षीय कोमालिका बारी को शामिल किया गया है, वही पुरुष रिकर्व दल में अनुभवी तरुणदीप राय एवं अतानु दास के साथ प्रवीण जाधव ने जगह बनायीं है। महिला कंपाउंड स्पर्धा के लिए ज्योति सुरेखा वेनम, मुस्कान किरार और कौर राज को तथा पुरुष कंपाउंड स्पर्धा के लिए अभिषेक वर्मा, रजत चौहान और भगवान दास को शामिल किया गया है। भारतीय दल का चयन भुबनेश्वर में 3 दिन तक चले ट्रायल्स के बाद हुआ है जिसमे जनवरी में हुए ओपन ट्रायल के शीर्ष 16 तीरंदाज और इसी माह कटक में हुए सीनियर राष्ट्रीय स्पर्धा के शीर्ष 8 तीरंदाजों ने भाग लिया था।

यह दल अप्रैल में कोलंबिया के शहर मेडेलिन तथा मई में तुर्की के शहर अंताल्या में होनेवाली विश्व कप प्रतियोगिताओं के प्रथम एवं तृतीय चरण में भी भारत का प्रतिनिधित्व करेगा, जिसके लिए मधु वेदवान (महिला रिकर्व), अतुल वर्मा (पुरुष रिकर्व), स्वाति दुधवाल (महिला कंपाउंड) एवं अमन सैनी (पुरुष कंपाउंड) को भी रिज़र्व के तौर पे शामिल किया गया है। भारतीय दल में अनुभवी एवं नए तीरंदाजों का मिश्रित संतुलन है। दीपिका कुमारी और बोम्बाल्या देवी बहुत ही लम्बे समय से भारतीय दल का हिस्सा रही है, दोनों ने कुल मिलाकर देश के लिए लगभग 30 पदक विभिन्न विश्व कप एवं विश्व चैंपियनशिप में जीते है। भारतीय महिला दल ने 2011 एवं 2015 में हुविश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था। पुरुष रिकर्व दल में तरुणदीप राय ने वापसी की है, उन्होंने 2010 के एशियाई खेलों में व्यक्तिगत स्पर्धा में रजत पदक जीता था, अतानु दास पिछले कुछ वर्षो से देश के शीर्ष रिकर्व तीरंदाजों में शामिल है एवं टीम स्पर्धाओं में पदक जीत चुके है।

पुरुष कंपाउंड टीम विश्वचैंपियनशिप में पदक की प्रबल दावेदार हो सकती है, टीम में अनुभवी रजत चौहान है जिन्होंने 2015 विश्वचैंपियनशिप में व्यक्तिगत स्पर्धा में रजत पदक जीता था। अभिषेक वर्मा ने पिछले विश्व कप सत्र में कुल मिलाकर 7 पदक जीते थे। इसके अलावा दोनों तीरंदाज 2014 एवं 2018 के एशियाई खेलों की पदक विजेता दल का भी हिस्सा रह चुके है। अभिषेक की तरह ज्योति सुरेखा वेनम ने भी गत सत्र में 7 पदक जीते थे, युवा तीरंदाज मुस्कान किरार ने 2018 भारतीय दल का हिस्सा रहते हुए विश्व कप स्पर्धाओं में 2 रजत पदक तथा एशिया कप में व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था।

ज्योति एवं मुस्कान 2018 एशियाई खेलों में रजत पदक विजेता कंपाउंड दल का भी हिस्सा थी। मई में ही चीन के शहर शंघाई में होने वाले विश्व कप के दूसरे चरण के लिए एक दूसरी रिकर्व टीम का चयन किया गया है, जिसमे ट्रायल्स में 5वे से 8वे स्थान पे रहे तीरंदाजों को दल में शामिल किया गया है। पुरुष दल में जगदीश चौधरी, वकील राज डिंडोर, सुखचैन सिंह एवं चमन सिंह ने जगह बनायीं वही महिला दल में अंकिता भगत, प्रीती, साक्षी शितोले, प्रोमिला दाईमैरी को शामिल किया गया। रिकर्व तीरंदाजी ओलिंपिक खेलों का हिस्सा है तथा 2019 विश्वचैंपियनशिप, 2020 में टोक्यो में होनेवाले ओलम्पिक खेलों के लिए क्वालीफ़ायर प्रतियोगिता होगी जिसमे शीर्ष की 8 टीमें ओलंपिक्स के लिए क्वालीफाई कर जाएगी, साथ ही में इन 8 टीमों के तीनो तीरंदाज ओलंपिक्स की व्यक्तिगत स्पर्धा में भी हिस्सा ले सकेंगे।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it