Begin typing your search above and press return to search.

पर्वतारोहण

मुंबई की 12 साल की काम्या माउंट एकांकागुआ को फ़तेह करने वाली सबसे युवा पर्वतारोही बनी

मुंबई की 12 साल की काम्या माउंट एकांकागुआ को फ़तेह करने वाली सबसे युवा पर्वतारोही बनी
X
By

Ankit Pasbola

Updated: 2022-05-01T21:36:50+05:30

मुंबई की काम्या कार्तिकेन ने नया कीर्तिमान अपने नाम किया है। 12 साल की काम्या ने दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊँची पर्वत चोटी माउंट एकांकागुआ को फतह किया है। वह ऐसा करने वाली सबसे युवा पर्वतारोही बन गई है। काम्या मुंबई स्थित नेवी पब्लिक स्कूल में कक्षा सात की छात्रा है। आपको बता दें कि अर्जेंटीना की एंडीज पर्वतमाला में स्थिन माउंट एकांकागुआ की ऊंचाई 6962 मीटर है। संबंधित अधिकारियों ने रविवार को उनके सफलतापूर्वक अभियान की पुष्टि की है। उनका अगला बड़ा लक्ष्य सभी महाद्वीपों की सबसे ऊँची चोटी को फतेह करना है।

काम्या ने 24 अगस्त 2019 को लद्दाख में 6260 मीटर ऊँचे माउंट मेंटोक कांग्री द्वितीय पर चढ़ाई पूरी की थी। ऐसा करने वाली वह सबसे युवा पर्वतारोही थीं। अभियान से जुड़े एक अधिकारी ने इसको लेकर आईएएनएस से कहा, "वर्षों की शारीरिक और मानसिक तैयारी के साथ साहसिक खेलों में नियमित भागीदारी ने काम्या को कठिन परिस्थितियों में चढ़ाई पूरी करने में मदद की।"

https://twitter.com/CaptDKS/status/1226464536397590531?s=20

युवा पर्वतारोही काम्या के पिता एस. कार्तिकेयन भारतीय नौसेना में कमांडर हैं, जबकि उनकी मां लावण्या शिक्षिका हैं। वह अपने पिता से प्रभावित होकर पर्वतारोही बनी। उन्होंने तीन साल की उम्र में ही पुणे के लोनावाला में बेसिक ट्रेकिंग का अभ्यास किया था। नौ साल होने तक काम्या ने उत्तराखंड स्थित रूपकुंड की चढाई पूरी की। अगले साल उन्होंने अपने लिए बड़े लक्ष्य निर्धारित किये और एवरेस्ट बेस कैम्प की चढाई की। पिछले साल उन्होंने लद्दाख के माउंट स्टोक कांग्री (6153 मीटर) पर चढ़ाई पूरी की।

इससे पहले ही काम्या ने अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो (5895 मीटर), यूरोप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एल्ब्रुस (5642 मीटर) और ऑस्ट्रेलिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट कोसुज्को (2228 मीटर) पर भी चढ़ाई करने में कामयाबी हासिल की है। वह अगले साल एक्सप्लोरर्स ग्रैंड स्लैम को पूरा करना चाहती हैं। इसके लिए उन्हें सभी महाद्वीपों की सबसे ऊंची चोटियों को फतह करना होगा।

Next Story
Share it