Begin typing your search above and press return to search.

राष्ट्रीय खेल

National Games 2022: बटरफ्लाई विशेषज्ञ आस्था चौधरी के नेशनल गेम्स रिकॉर्ड के साथ शुरू हुई तैराकी

उन्होंने 100 मीटर बटरफ्लाई हीट में 1:03.91 का समय निकालकर ऋचा मिश्रा के पिछले रिकॉर्ड को तोड़ दिया

Ashtha Choudhury
X

आस्था चौधरी

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-02T23:10:22+05:30

आस्था चौधरी (असम) ने रविवार को यहां सरदार पटेल एक्वेटिक्स कॉम्प्लेक्स में शुरू हुई नेशनल गेम्स एक्वेटिक्स प्रतियोगिता में रिकॉर्ड तोड़ने वाली पहली तैराक बनने का सम्मान हासिल किया।

उन्होंने 100 मीटर बटरफ्लाई हीट में 1:03.91 का समय निकालकर ऋचा मिश्रा के पिछले रिकॉर्ड को तोड़ दिया, जिसे ऋचा ने 2011 में रांची गेम्स में 1 मिनट 04.41 सेकेंड समय के साथ बनाया था।

यह संयोग ही है कि बटरफ्लाई विशेषज्ञ ने पिछले महीने गुवाहाटी में 1:03.07 का समय निकालकर राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बनाया था।

तानिशी गुप्ता (कर्नाटक) और दिव्या सतीजा (हरियाणा) आज हीट में दूसरे और तीसरे स्थान पर रहीं।

2015 के राष्ट्रीय खेलों के सर्वश्रेष्ठ पुरुष एथलीट साजन प्रकाश ने दो व्यक्तिगत फइनल और केरल टीम के साथ 4x100 मीटर फ़्रीस्टाइल रिले फइनल में प्रवेश करके उस उपलब्धि को दोहराने की अपनी खोज शुरू कर दी है। दिन में, जब उनके युवा ओलम्पिक सहयोगी श्रीहरि नटराज ने केवल फ्रीस्टाइल रिले हीट में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई, साजन प्रकाश ने बहुत स्पष्ट शब्दों में अपनी मंशा जताई।

उस खिताब की खोज में उन्हें कितनी रेसें लगानी होंगी, इस बात से अवगत होने के कारण, वह 200 मीटर फ्रीस्टाइल और 100 मीटर बटरफ्लाई में फाइनल में जगह बनाने के लिए पर्याप्त प्रयास करने में अपरिवर्तनवादी थे। साजन प्रकाश ने 200 मीटर फ्रीस्टाइल में 1:55.74 के साथ शुरुआत की, उनका यह समय उभरते सितारे अनीश एस गौड़ा और संभव राव (दोनों कर्नाटक), गुजरात की बड़ी उम्मीद आर्यन नेहरा और विशाल ग्रेवाल (दिल्ली) के बाद हीट में पांचवां सबसे तेज था।

साजन प्रकाश के साथ दुबई में ट्रेनिंग करने वाले वेदांत माधवन ने भी फाइनल में जगह बनाई। राष्ट्रीय चैम्पियन हर्ष सरोहा (हरियाणा) ने नौवें स्थान पर हीट समाप्त की और फाइनल के लिए रिजर्व तैराक के रूप में खुद को चिन्हित किया।

बेहद अनुभवी साजन प्रकाश ने 56.16 सेकेंड के समय के साथ 100 मीटर बटरफ्लाई क्वालीफिकेशन में शीर्ष स्थान हासिल किया। संभव राव ने भी 57.47 के साथ अपने दूसरे फाइनल में जगह बनाई, हालांकि यह बिक्रम चांगमई (असम) थे जो हीट से क्वालीफायर्स में दूसरा सबसे तेज तैराक थे।

कर्नाटक की युवा तैराक ढिंडीही देसिंघु महिलाओं की 200 मीटर फ्रीस्टाइल हीट में 2:11.44 समय के साथ सबसे तेज रहीं। उन्हें फाइनल में लेन आवंटन में भव्या सचदेवा (दिल्ली) और शिवांगी सरमा (असम) से आगे स्थान का गौरव मिलेगा।

Next Story
Share it