Begin typing your search above and press return to search.

राष्ट्रीय खेल

National Games 2022: सिमरनजीत, शिवा और स्वीटी ने आसान जीत के साथ अगले दौर में बनाई जगह

सिमरनजीत ने 60 किलोग्राम भारवर्ग के मुकाबले में 2019 नेशनल चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता रिंकी शर्मा को आसानी से हरा दिया

Simranjit Kaur Boxing
X

सिमरनजीत कौर (नीली पौशाक में)

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-07T22:07:44+05:30

विश्व चैंपियनशिप में पदक जीतने वाली सिमरनजीत कौर बाथ और शिवा थापा ने रिंग में अपने विपक्षियों को आसानी से मात दी है। इस जीत के साथ ही दोनों ने 36वें राष्ट्रीय खेल के क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है।

हरियाणा के 57 किलोग्राम भारवर्ग के मुक्केबाज और वर्ल्ड यूथ चैंपियन सचिन सिवाच जिन्होंने हाल ही में कजाकिस्तान में हुए एलोर्डा कप में कांस्य पदक जीता था ने भी आखिरी आठ में अपनी जगह पक्की कर ली है। एशियन चैंपियनशिप में कांस्य जीतने वाली स्वीटी बोरा ने महिलाओं की 75 किलोग्राम भारवर्ग के प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबले में जीत दर्ज की है।

पंजाब की मुक्केबाज सिमरनजीत ने शानदार फॉर्म दिखाई और 60 किलोग्राम भारवर्ग के मुकाबले में 2019 नेशनल चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता रिंकी शर्मा को आसानी से हरा दिया। 2018 वर्ल्ड चैंपियनशिप में कांस्य जीतने वाली मुक्केबाज ने पूरे मुकाबले के दौरान अपनी पकड़ बनाए रखी। उन्होंने मैच की शुरुआत विपक्षी के सिर में लगातार मुक्के मारते हुए की थी और उनके आक्रमण के सामने उत्तर प्रदेश की 23 साल की मुक्केबाज की एक ना चली। सिमरनजीत टोक्यो ओलंपिक टीम का हिस्सा थीं और उन्होंने कई मौकों पर अपनी विपक्षी की डिफेंस को फेल साबित किया। इसके बाद रेफरी को रिंकी के लिए आठ तक की स्टैंडिंग काउंट शुरु करनी पड़ी थी और फिर सिमरन ने 5-0 के अंतर से मुकाबला अपने नाम किया था।

मैच के बाद उन्होंने कहा, "मैं रिंकी के खिलाफ पहली बार खेल रही थी तो उनकी मुक्केबाजी की शैली को समझने के लिए मैंने थोड़ा समय लिया। अगले दौर में जाने से पहले यह मेरे लिए बढ़िया अभ्यास साबित हुआ।"

शिवा थापा

सिमरनजीत के अलावा पंजाब की दूसरी सफल मुक्केबाज दीक्षा राजपूत रहीं जिन्होंने तेलंगाना की नर्मदा मुनीगी को हराया। उन्होंने महिलाओं की 75 किलोग्राम मिडिलवेट वर्ग में विजयी शुरुआत की है। पुरुषों की 57 किलोग्राम भारवर्ग लाइटवेट में पंजाब के विजय कुमार ने कर्नाटक के किरन बीके के खिलाफ 5-0 की शानदार जीत हासिल की है। पुरुषों की 67 किलोग्राम वेल्टरवेट वर्ग में विकास ने बिहार के हैदर अली को पहले दौर में नॉकआउट किया है। रिंग में अपनी बेहतरीन स्किल के लिए मशहूर शिवा ने अनिकेत जे पाण्डेय के खिलाफ 5-0 से जीत हासिल की है। असम के शिवा ने एशियन चैंपियनशिप में पांच बार पदक जीता है और उनके सामने अनिकेत कुछ नहीं कर पाए।

जीत के बाद उन्होंने कहा, "अपने भारवर्ग में पूरे देश के टैलेंट को परखने के लिए राष्ट्रीय खेल सबसे सही प्लेटफॉर्म है। हर मुकाबला महत्वपूर्ण होता है और इससे फर्क नहीं पड़ता कि विपक्षी कौन है। हम सभी को बराबर आंकते हैं। वजन के डिवीजन बदल गए हैं तो कई मुक्केबाज 63.5 किलोग्राम से 67 किलोग्राम में आ गए हैं और कई अधिक वजन से कम वाले में आए हैं। इसी कारण से प्रतियोगिता का स्तर अपने आप ऊपर चला गया है।"

बेहद शानदार फॉर्म में चल रहे सचिन ने अरुणाचल प्रदेश के आमिर ताजो के खिलाफ धुंआधार प्रदर्शन किया। पुरुषों की 57 किलोग्राम फेदरवेट कैटेगरी के मुकाबले में सचिन प्रबल दावेदार के रूप में उतरे थे और उन्होंने आसान जीत हासिल की है। घरेलू दर्शकों के लिए गुजरात के आसिफ अली असगर अली सैयद इकलौते विजेता रहे। अन्य सभी मुक्केबाज अपने मैच में हारे। सैयद ने बिहार के मनीष कुमार के खिलाफ 57 किलोग्राम भारवर्ग मुकाबले में 5-0 से जीत हासिल की है।

दिन के अन्य मुकाबलों में महिलाओं की 52 किलोग्राम फ्लाइवेट कैटेगिरी में असम के मंजू बासुमैत्री ने गुजरात के हेतल सुंदरजी दामा के खिलाफ 3-2 से रोमांचक जीत हासिल की है। मध्य प्रदेश की अंजलि शर्मा (52 किलोग्राम), मणिपुर की ओजिबाला थूनोजाम (52 किलोग्राम), हिमाचल प्रदेश की डिंपल उपाध्याय (60 किलोग्राम), दिल्ली की शलाखा सिंह (75 किलोग्राम) और हिमाचल की श्रीतिमा ठाकुर (75 किलोग्राम) ने भी अगले दौर में जगह बनाई है।

पुरुष मुक्केबाजों में त्रिपुरा के करन रुपिनी (51 किलोग्राम), राजस्थान के भीम प्रताप सिंह (51 किलोग्राम), हिमाचल के अविनाश चैनल (51 किलोग्राम) और तमिलनाडु के रामा कृष्णन बाला (51 किलोग्राम) ने जीत हासिल की है। छत्तीसगढ़ के एस साहिल (57 किलोग्राम), झारखंड के जावोद दोग्मा (57 किलोग्राम), सर्विसेज के एतास खान मुहम्मद (60 किलोग्राम) ने भी अंतिम आठ में जगह बनाई है।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it