Begin typing your search above and press return to search.

राष्ट्रीय खेल

National Games 2022: साई प्रणीत राष्ट्रीय खेलों के बैडमिंटन फाइनल में मिथुन से भिड़ेंगे

शीर्ष वरीय मालविका बंसोड़ का सामना दूसरी वरीयता प्राप्त आकर्षी कश्यप से होगा

Sai Praneeth Badminton
X

साई प्रणीत

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-05T20:29:38+05:30

तेलंगाना के पूर्व राष्ट्रीय चैम्पियन बी साई प्रणीत गुरुवार को यहां 36वें राष्ट्रीय खेलों के पुरुष एकल बैडमिंटन फाइनल मुकाबले में कर्नाटक के मिथुन मंजूनाथ से भिड़ेंगे।

महाराष्ट्र की शीर्ष वरीयता प्राप्त मालविका बंसोड़ महिला एकल खिताबी मुकाबले में छत्तीसगढ़ की दूसरी वरीयता प्राप्त आकर्षी कश्यप से खेलेंगी, जिसके रोमांचक होने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

बुधवार को यहां पीडीडीयू इंडोर स्टेडियम में खेले गए पुरुषों के सेमीफाइनल में, साई प्रणीत ने कर्नाटक के एम रघु को 21-12, 21-19 से हराया, जबकि मिथुन ने गुजरात के आर्यमन टंडन पर स्पष्ट रूप से दबदबा बनाते हुए 21-9, 21-11 से जीत हासिल की।

साई प्रणीत ने अपनी जीत के बाद कहा, "जिस तरह से मैंने अपने स्ट्रोक खेले उससे मुझे खुशी हुई। वे अच्छी तरह से रैकेट पर आ रहे थे।"

आर्यमन टंडन को बुधवार को मिथुन से आगे निकलने का रास्ता नहीं मिला, लेकिन वह राष्ट्रीय खेलों में पदक जीतने वाले गुजरात के पहले बैडमिंटन खिलाड़ी बने।

अतीत में प्रकाश पादुकोण अकादमी में मिथुन के साथ प्रशिक्षण ले चुके आर्यमन ने स्वीकार किया, "मेरे पास उनके शॉट्स का कोई जवाब नहीं था।'' उन्होंने कहा, "मैं उनका खेल जानता था। मैं आश्वस्त था और मैंने शुरू से ही आक्रामक खेल खेलने का फैसला किया था। मैंने इस मैच की तैयारी की थी। लेकिन कुछ भी काम नहीं आया।"

मिथुन मंजुनाथ

महिला सेमीफाइनल में, मालविका बंसोड़ एक बार फिर मुश्किल में थी, इस बार उत्तराखंड की अदिति भट्ट ने उन्हें परेशान किया। हालांकि, शीर्ष वरीय ने अपने अनुभव का इस्तेमाल करके दूसरे गेम के विपरीत परिणाम को उलटते हुए 21-10, 19-21, 21-13 से मैच जीत लिया।

आकर्षी कश्यप के लिए सेमीफाइनल मैच आसान रहा। उन्होंने कर्नाटक की तान्या हेमंत को 21-9, 21-15 से करारी शिकस्त दी।

मालविका बंसोड़

सेमीफाइनल एक्शन में शामिल अन्य बड़े खिलाड़ी अश्विनी पोनप्पा और सिक्की रेड्डी थे जिन्होंने हाल ही में एक साथ महिला युगल खेलना बंद कर दिया था।

मिश्रित युगल में के. साई प्रतीक के साथ अश्विनी पोनप्पा ने तमिलनाडु के हरिहरन अम्साकरुनम और वीआर नराधना की जोड़ी को 23-21, 13-21, 21-19 से हराया।

33 वर्षीय अश्विनी ने कहा, "मैं अपने खेल में थोड़ी लय में नहीं थी। हम पहली बार किसी बड़े टूर्नामेंट में खेल रहे थे और हमें व्यवस्थित होने में थोड़ा समय लगा। मैंने कुछ मूर्खतापूर्ण गलतियां कीं लेकिन प्रतीक कुछ अच्छे स्मैश के साथ आगे आए। मैं उनके खेल से प्रभावित थी। भविष्य के टूर्नामेंटों में मजबूत बनने के लिए हमें इस तरह के मैचों की जरूरत है।''

कर्नाटक की जोड़ी दिल्ली की रोहन कपूर और कनिका कंवल जोड़ी से मुकाबला करेगी, जिन्होंने एस संजीत और टीआर गौरीकृष्णन (केरल) को 24-22, 21-18 से हराया।

सिक्की रेड्डी और गायत्री गोपीचंद

गायत्री गोपीचंद के साथ पहली बार किसी बड़े टूर्नामेंट में खेल रहीं बाएं हाथ की सिक्की को महिला युगल में अपनी जोड़ीदार के साथ अपने खेल को अनुकूलित करना पड़ा। काव्या गुप्ता और खुशी गुप्ता की दिल्ली की जोड़ी को 21-16, 21-17 से रौंदने के बाद सिक्की ने कहा, "हमने कभी बड़े मैच में एक साथ नहीं खेला। उसने कभी भी बाएं हाथ के खिलाड़ी के साथ जोड़ी नहीं बनाई थी, लेकिन हमने अच्छी तरह से जमकर खेले।''

फाइनल में तेलंगाना की जोड़ी कर्नाटक की शिखा गौतम और अश्विनी भट से भिड़ेगी, जिन्होंने केरल की महरीन रिजा और आरती सारा सुनील को 23-21, 21-11 से हराया।

रविकृष्ण और शंकर प्रसाद उदयकुमार

पुरुष युगल का फाइनल कर्नाटक के पीएस रविकृष्ण और शंकर प्रसाद उदयकुमार और तमिलनाडु के हरिहरन अम्सकरुनन और रुबन कुमार के बीच होगा।

परिणाम:

पुरुष एकल (सेमीफाइनल): बी साई प्रणीत (तेलंगाना) ने एम रघु (कर्नाटक) को 21-12, 21-19 से हराया; एम मिथुन (कर्नाटक) ने आर्यमन टंडन (गुजरात) को 21-9, 11-21 से हराया।

महिला एकल (सेमीफाइनल): मालविका बंसोड़ (महाराष्ट्र) ने अदिति भट्ट (उत्तराखंड) को 21-10, 19-21, 21-13 से हराया; आकर्षी कश्यप (छत्तीसगढ़) ने तान्या हेमंत (कर्नाटक) को 21-9, 21-15 से हराया।

महिला युगल (सेमीफाइनल): सिक्की रेड्डी और गायत्री गोपीचंद पुलेला (तेलंगाना) ने काव्या गुप्ता और खुशी गुप्ता (दिल्ली) 21-16, 21-17 से हराया; शिखा गौतम और अश्विनी भट (कर्नाटक) ने महरीन रिजा और आरती सारा सुनील (केरल) को 23-21, 21-11 से हराया।

पुरुष युगल (सेमीफाइनल): पीएस रविकृष्ण और शंकर प्रसाद अजय कुमार (केरल) ने एचवी नितिन और वैभव (कर्नाटक) को 21-17, 21-14 से हराया; हरिहरन अम्सकरुनन और रुबन कुमार (तमिलनाडु) ने श्याम प्रसाद और एस सुजीत (केरल) को 21-19, 21-16 से हराया।

मिश्रित युगल (सेमीफाइनल) : साई प्रतीक और अश्विनी पोनप्पा (कर्नाटक) ने हरिहरन अम्सकरुनन और वी.आर. नरधना (तमिलनाडु) को 23-21, 13-21, 21-19 से हराया; रोहन कपूर और कनिका कंवल (दिल्ली) ने एस सुंजीत और टीआर गौरीकृष्णा (केरल) को 24-22, 21-18 से हराया।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it