Begin typing your search above and press return to search.

राष्ट्रीय खेल

National Games 2022: साई प्रणीत और आकर्षी कश्यप ने जीता पुरुष और महिला एकल का खिताब

प्रणीत को कर्नाटक के मिथुन मंजुनाथ के खिलाफ पुरुष एकल मुकाबले में जीत हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी

Sai Praneeth and Aakarshi Kashyap
X

साई प्रणीत और आकर्षी कश्यप

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-07T15:00:19+05:30

तेलंगाना के शीर्ष वरीयता वाले खिलाड़ी बी साई प्रणीत और छत्तीसगढ़ की दूसरी वरीयता वाली महिला खिलाड़ी आकर्षी कश्यप ने पुरुष और महिला एकल बैडमिंटन खिताब जीते हैं। गुरुवार को 36वें राष्ट्रीय खेल में पंडित दीन दयाल उपाध्याय इंडोर स्टेडियम में बैडमिंटन के मुकाबले खेले गए थे। प्रणीत को कर्नाटक के मिथुन मंजुनाथ के खिलाफ पुरुष एकल मुकाबले में जीत हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी। उन्होंने 21-11, 12-21, 21-16 के अंतर से जीत हासिल की है। आकार्षी ने शीर्ष वरीयता वाली महाराष्ट्र की मालविका बंसोड़ के खिलाफ फाइनल में 21-8, 22-20 से जीत हासिल की है।

30 साल के प्रणीत की सफलता का मतलब है कि तेलंगाना ने बैडमिंटन में तीन स्वर्ण पदक जीते हैं। उन्होंने मिश्रित युगल और और महिला युगल के खिताब भी अपने नाम किए हैं। प्रणीत ने पहले सेट में ही दबदबा बनाया और 8-2 की बढ़त हासिल करने के बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा। दूसरे सेट में मिथुन ने भी दमदार वापसी की थी, लेकिन इसके बावजूद वह मुकाबला जीत नहीं सके।

राष्ट्रीय खेल में पहला स्वर्ण जीतने के बाद प्रणीत ने कहा, "जब एक बार मैच मेरी पकड़ से दूर जाने लगा था तो मैंने शांत खुद को शांत किया ताकि तीसरे सेट पर ध्यान लगा सकूं।"

तीसरे सेट में प्रानीथ को मिथुन से कड़ी टक्कर मिली। भले ही मिथुन ने पूरे सेट में अच्छा खेल दिखाया, लेकिन प्रणीत ने अपने अनुभव का फायदा लेते हुए जीत हासिल की।

स्मैश के साथ मैच की समाप्ति करने वाले प्रणीत ने बताया, "16-15 पर बढ़त हासिल करने के बाद मैंने सुरक्षित खेलना शुरु कर दिया था। मैंने देख लिया था कि मिथुन थक रहे हैं और मुझे केवल शटल को धकेलना था।"

इससे पहले आकर्षी कश्यप ने मुकाबले के पहले सेट में दमदार खेल दिखाया था। महिला एकल के फाइनल में मालविका को लय हासिल करने में समय लग गया। शीर्ष वरीयता वाली मालविका ने दूसरे सेट की शुरुआत अच्छे तरीके से की थी और 8-4 की बढ़त हासिल की थी। आकार्षी ने इसके बाद मजबूत वापसी की और स्कोर को 9-9 से बराबर कर लिया था। हालांकि, मालविका भी हार मानने का नाम नहीं ले रही थीं और उन्होंने लगातार अपनी विपक्षी पर दबाव बनाए रखा। मालविका ने एक समय 18-14 से बढ़त ले रखी थी और ऐसा लग रहा था कि मुकाबला तीसरे और निर्णायक सेट में जाने वाला है। यहां से आकर्षी ने अद्भुत वापसी करते हुए मालविका को पछाड़ा और लगातार छह प्वाइंट्स हासिल करते हुए दूसरा सेट और मैच अपने नाम कर लिया।

मालविका ने लगातार आकर्षी के शॉट्स के जवाब दिए थे और दो प्वाइंट्स बचाए भी थे। आकर्षी ने स्मैश लगाया और फिर क्रॉस कोर्ट ड्रॉप के साथ अपने राज्य को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। तेलंगाना के एन सिक्की रेड्डी और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी ने महिला युगल का खिताब जीता। उन्होंने राष्ट्रीय चैंपियन अश्विनी भट और शिखा गौतम को 21-14, 21-11 से हराते हुए जीत हासिल की है। केरल के पीएस रविकृष्णा और शंकरप्रसाद उदयकुमार ने हरिहरन अमसकारूनन तथा आर रुबन कुमार को 21-19-, 21-19 से हराते हुए पुरुष युगल का खिताब जीता है। अश्विनी पोनप्पा और के साई प्रतीक की जोड़ी ने रोहन कपूर और कनिका कंवल को 21-16, 21-13 से हराते हुए अपने अभियान की शुरुआत शानदार तरीके से की है।

परिणाम:

महिला एकल: आकर्षी कश्यप ने मालविका बंसोड़ (महाराष्ट्र) को 21-8, 22-20 से हराया।

महिला युगल: एन सिक्की रेड्डी/गायत्री गोपीचंद (तेलंगाना) ने शिखा गौतम/अश्विनी भट (कर्नाटक) को 21-14, 21-11 से हराया।

पुरुष एकल: बी साई प्रणीत (तेलंगाना) ने मिथुन एम (कर्नाटक) को 21-11, 12-21, 21-16 से हराया।

पुरुष युगल: रविकृष्णा पी.एस./शंकरप्रसाद उदयकुमार (केरल) ने हरिहरन अम्सकरुनन/रुबन कुमार (तमिलनाडु) को 21-19, 21-19 से हराया।

मिश्रित युगल: साई प्रतीक/अश्विनी पोनप्पा (कर्नाटक) ने रोहन कपूर/कनिका कंवल (दिल्ली) को 21-15, 21-13 से हराया।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it