Begin typing your search above and press return to search.

राष्ट्रीय खेल

National Games 2022: सही समय पर आया है नेशनल गेम्स - हॉकी टीम की कोच जेनेक शॉपमैन

जेनेक शॉपमैन का मानना है कि वे घरेलू टूर्नामेंट खिलाड़ियों की संख्या को बढ़ाने के लिए काफी जरूरी हैं

Janneke Schopman Hockey
X

जेनेक शॉपमैन

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-07T15:01:17+05:30

भारतीय महिला हॉकी टीम की कोच जेनेक शॉपमैन ध्यानचंद हॉकी स्टेडियम में लगातार मौजूद हैं। वह 36वें नेशनल गेम्स में ग्रुप स्टेज के मैचों को दर्शक के रूप में देख रही हैं। नीदरलैंड्स टीम की पूर्व मिडफील्डर फिलहाल स्काउटिंग ट्रिप पर हैं और वह यहां से इंडिया कैंप के लिए कुछ नए चेहरों की तलाश में हैं। उनका मानना है कि महिला हॉकी के लिए नेशनल गेम्स काफी सही समय पर आया है।

जेनेक शॉपमैन ने कहा, "नेशनल गेम्स के लिए इससे अच्छे समय में नहीं आ सकता था क्योंकि इसका 36 वां संस्करण एथलीट्स को इंटरनेशनल मैचों से पहले अच्छा मौका दे रहा है।"

टोक्यो ओलंपिक में चौथे स्थान पर रहने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम दोबारा सशक्त बनने की ओर है और कोच खिलाड़ियों की संख्या को अधिक करना चाहती हैं जिससे की टीम बनाई जा सके।

उन्होंने कहा, "भारत के पास टैलेंट की कोई कमी नहीं है और ऐसे टूर्नामेंट्स से उन्हें पहचाने जाने का दरवाजा खुलता है। मैं यहां हरियाणा की टीम को खास तौर से देखने के लिए आई हूं क्योंकि इसमें 10 भारतीय खिलाड़ी हैं। मैं भारतीय खिलाड़ियों को एक-दूसरे के खिलाफ खेलते देखना पसंद करूंगी। मैं उनमें से कुछ लोगों के लिए बुरा महसूस कर रही हूं जो यहां नहीं हैं क्योंकि उनके राज्य के हाथ से यह मौका छिटक गया।"

जेनेक शॉपमैन का मानना है कि वे घरेलू टूर्नामेंट जिनमें आने वाले खिलाड़ियों को इंटरनेशनल खिलाड़ियों के खिलाफ खेलने का मौका मिलेगा खिलाड़ियों की संख्या को बढ़ाने के लिए काफी जरूरी हैं।

उन्होंने कहा, "यह देखना काफी शानदार है कि इंटरनेशनल खिलाड़ी ऐसे घरेलू टूर्नामेंट्स में हिस्सा ले रहे हैं। किसी भी नेशनल टीम के लिए घरेलू कैलेंडर काफी जरूरी है। इससे अन्य खिलाड़ियों के लिए नेशनल टीम में जगह बनाने के दरवाजे खुलते हैं।"

Next Story
Share it