Begin typing your search above and press return to search.

राष्ट्रीय खेल

National Games 2022: बैडमिंटन स्टार प्रणय आसान जीत के साथ कोर्ट पर लौटे

एचएस प्रणय ने ओरिजीत चालिहा को 21-11, 21-9 से हराकर केरल को राष्ट्रीय खेलों के मिक्स्ड टीम क्वार्टर फाइनल में असम पर 3-1 से जीत दिलाई

HS Prannoy Badminton
X

एचएस प्रणय

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-02T16:02:38+05:30

बैडमिंटन स्टार एचएस प्रणय ने दिखाया कि उनका मतलब केवल अपने काम से रहता है क्योंकि उन्होंने एक महीने के ब्रेक के बाद कोर्ट में वापसी की और ओरिजीत चालिहा को 21-11, 21-9 से हराकर केरल को यहां शनिवार को राष्ट्रीय खेलों के मिक्स्ड टीम क्वार्टर फाइनल में असम पर 3-1 से जीत दिलाई।

प्रणय ने जीत के बाद कहा, "कोर्ट पर वापस आना एक अच्छा एहसास है। मैं आखिरी बार सितंबर के पहले सप्ताह में जापान ओपन में खेला था। इस साल कुछ अच्छी जीत के बाद मेरे लिए यह एक लंबा ब्रेक था।" उन्होंने 26 मिनट में अपनी जीत का जायजा लेते हुए कहा, "मैं कोर्ट पर उतना मूवमेंट नहीं कर रहा था जितना मैं चाहता था, लेकिन मैं ट्रेनिंग पर वापस आ गया हूं। और लंबे समय के बाद मैच खेलना हमेशा कठिन होता है।"

हाल ही में अपनी गर्लफ्रेंड स्वेथा थॉमस से शादी करने वाले प्रणय ने कहा कि ओरिजीत चालिहा के खिलाफ मैच कठिन नहीं था। नवीनतम पुरुष एकल बीडब्लूएफ वर्ल्ड टूर 2022 रैंकिंग में टोक्यो ओलंपिक खेलों के चैम्पियन विक्टर एक्सेलसेन (डेनमार्क) की जगह लेने वाले भारत के स्टार ने कहा, "लेकिन टूर्नामेंट के आगे बढ़ने पर, मुझे कठिन मैच मिलेंगे।"

वह इस साल बीडब्लूएफ वर्ल्ड टूर पर 13 टूर्नामेंटों में भाग लेकर 58,090 अंकों के साथ आगे चल रहा है।

प्रणय इस साल मई में भारत को अपना पहला थॉमस कप खिताब दिलाने में मदद करने के बाद से अच्छी फॉर्म में हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन तब आया, जब उन्होंने एक बीडब्लूएफ सुपर 300 टूर्नामेंट स्विस ओपन के फाइनल में जगह बनाई। उन्होंने मलेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन में भी दो सेमीफाइनल खेले थे।

उन्होंने कहा, "मेरा ध्यान वर्ल्ड टूर फाइनल्स पर रहेगा। उससे पहले कई टूर्नामेंट हैं। मुझे उनमें विजयी परिणाम देने की उम्मीद है। मुझे निरंतर प्रदर्शन करना होगा। बेशक, मुझे ग्रेड बनाने के लिए शीर्ष आठ में होना होगा।" उन्होंने कहा, "मैं वर्ल्ड टूर फाइनल्स से पहले अच्छी लय में आना चाहता हूं। मैं पिछले साल के अपने परिणामों से खुश हूं और मुझे लगातार लय बनाए रखने की जरूरत है।"

हालांकि विश्व टूर रैंकिंग में उनका शीर्ष स्थान है, लेकिन उनकी विश्व रैंकिंग पुरुष एकल में 18वें स्थान पर है। उन्होंने कहा, "मैं शीर्ष 10 में शामिल होना चाहता हूं और मेरी तरजीह शीर्ष पांच रहेगी, क्योंकि मुझे बेहतर ड्रॉ मिलेगा। मुझे अपने खेल पर भी काम करने की जरूरत है ताकि मैं सेमीफाइनल से आगे निकल सकूं। यही अब मेरी प्राथमिकता है।"

महाराष्ट्र, गुजरात सेमीफाइनल में

दिन के अन्य मैचों में महाराष्ट्र ने दिल्ली को 3-1 से और गुजरात ने उत्तराखंड को 3-2 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई।

महाराष्ट्र का सामना अब शीर्ष वरीयता प्राप्त तेलंगाना से होगा जबकि मेजबान टीम स्वर्ण पदक मुकाबले के लिए केरल से खेलेगी।

यह गुजरात के लिए जश्न का कारण था क्योंकि उसने राष्ट्रीय खेलों में पहली बार बैडमिंटन पदक का पक्का कर दिया है। गुजरात टीम के मैनेजर मोनेश मशरूवाला ने कहा, "हम केरल के खिलाफ सेमीफाइनल मैच के लिए तैयार हैं। लेकिन पहली बार पदक जीतना हमारी टीम के लिए एक बड़ी उपलब्धि है।''

Next Story
Share it