Begin typing your search above and press return to search.

पर्वतारोहण

उत्तरकाशी में आए हिमस्खलन में पर्वतारोही सविता कंसवाल की हुई मौत, इसी साल फतेह किया था माउंट एवरेस्ट

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में चोटी फतेह करने निकले करीब 40 लोगों का दल हादसे का शिकार हो गया

उत्तरकाशी में आए हिमस्खलन में पर्वतारोही सविता कंसवाल की हुई मौत, इसी साल फतेह किया था माउंट एवरेस्ट
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-10-05T23:22:29+05:30

कुछ ही महीने पहले विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट फतह करने वाली उत्तर काशी की सविता कंसवाल की मंगलवार को उत्तरकाशी की चोटी पर हुए हादसे में मौत हो गई। दरअसल, मंगलवार यानी कि 4 अक्टूबर के दिन उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के करीब 40 लोगों का दल जिस चोटी को फतह करने के लिए निकले थे, उसी चोटी पर आए हिमस्खलन (एवलांच) में ये लोग दब गए, जिसमें कुछ लोगों की मौत हो गई, कुछ को रेस्क्यू कर लिया गया और कुछ अब भी लापता हैं।

इस हादसे में बहादुर पर्वतारोही सविता भी नही बच पाई, सविता इस दल की ट्रेनर थी।

उत्तरकाशी जिले के भटवाड़ी ब्लॉक स्थित ग्राम लौंथरू निवासी युवा पर्वतारोही सविता कंसवाल ने इसी साल 12 मई को माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा लहराया था।

बता दे एवरेस्ट फतह के 15 दिन के भीतर सविता ने माउंट मकालू का भी सफल आरोहण कर रिकॉर्ड बनाया था। इतना ही नहीं सविता माउंट ल्होत्से चोटी पर तिरंगा लहराने वाली देश की दूसरी महिला पर्वतारोही बनी थीं। बहादुरी की मिसाल सविता ने इससे पहले साल 2021 में एवरेस्ट मैसिफ अभियान के तहत विश्व की चौथी सबसे ऊंची चोटी माउंट ल्होत्से (8516 मीटर) का भी सफल आरोहण किया था।

Next Story
Share it