Begin typing your search above and press return to search.

पर्वतारोहण

उत्तरकाशी के बर्फीले तूफान में युवा पर्वतारोही नीतीश दहिया की मौत, बजरंग पूनिया ने व्यक्त किया दुख

अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो को फतह करने वाले नीतीश कई चोटियों पर देश का तिरंगा फहरा चुके हैं

उत्तरकाशी के बर्फीले तूफान में युवा पर्वतारोही नीतीश दहिया की मौत, बजरंग पूनिया ने व्यक्त किया दुख
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-10-09T14:33:15+05:30

उत्तरकाशी में आए बर्फीले तूफान के चलते कई पर्वतारोहियों की मौत और घायल होने की खबरें सामने आ रही हैं। लापता लोगों की छानबीन की जा रही। इस छानबीन के दौरान युवा पर्वतारोही नीतीश दहिया का भी शव मिला हैं। हापुड़ जिले के एक गांव में रहने वाले नीतीश दहिया की भी बर्फीले तूफान में मौत हो गई। शनिवार को हुए पोस्टमार्टम के बाद नितीश के शव की पहचान कर उनके घरवालों को सौंप दिया गया।

युवा पर्वतारोही के निधन पर भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया ने ट्विटर पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा, "हम सब के लिये बड़े ही दुख की खबर है। आज छोटे भाई नीतीश दहिया हमारे बीच नहीं रहे, जो सबसे कम उम्र में माउंट एवरेस्ट किलिमंजारो जैसी चोटियों को फतह करने वाले पहले भारतीय थे। भगवान परिवार को ये दुख सहन करने की हिम्मत दें, जय हिंद।"

अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो को फतह करने वाले नीतीश कई चोटियों पर देश का तिरंगा फहरा चुके हैं। उन्होंने यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस को भी फतह किया था। और अपने इसी अभियान को आगे बढ़ाते नीतीश एडवांस कोर्स के लिए 23 सितंबर को द्रौपदी का डांडा-2 अपने पर्वतारोही साथियों और स्टाफ के साथ गए थे, जहां वह बर्फीले तूफान की चपेट में आ गए।

Next Story
Share it