Begin typing your search above and press return to search.

मैराथन

मुक्तार एड्रिस की नजर वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन में कोर्स रिकॉर्ड पर

वेदांता हाफ मैराथन दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित रेस में से एक है

Delhi Half Marathon International Athletes
X

इथियोपिया के मुक्तार एड्रिस, यूगांडा की स्टेल्ला चेसंग, केन्या  की इरिन चेप्टाई, इथियोपिया के चाला रेगासा और इथियोपिया की लेमलेम हैलू

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-15T21:52:24+05:30

इथियोपिया के दो बार के 5000 मीटर विश्व चैंपियन मुक्तार एड्रिस पिंडली की चोट के कारण पूरी गर्मी ट्रैक से दूर रहे। अब वह इससे उबर गए हैं और ट्रैक पर वापसी का जश्न न केवल रविवार (16 अक्टूबर) को वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन में जीत के साथ मनाना चाहते हैं बल्कि कोर्स रिकॉर्ड भी बनाना चाहते हैं। .

28 साल के एड्रिस ने 2020 में दिल्ली हाफ मैराथन में शानदार डेब्यू किया था 59:04 मिनट समय के साथ चौथे स्थान पर रहे थे। उन्होंने स्पेन के शहर वेलेंशिया में 12 महीने पहले 58:40 मिनट के तक अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय में सुधार किया। इस समय के साथ वह इस वर्ल्ड एथलेटिक्स एलीट लेबल रेस के 17वें संस्करण में सबसे तेज धावक के रूप में हिस्सा ले रहे हैं। वेदांता हाफ मैराथन दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित रेस में से एक है।

एड्रिस ने कहा, "रविवार को मैं केवल अपना तीसरा हाफ मैराथन में दौड़ूंगा लेकिन मैं निश्चित रूप से कोर्स रिकॉर्ड के लिए प्रयास करूंगा। मैं अब अच्छी स्थिति में वापस हूं। "

एड्रिस ने आगे कहा, "मैं इस साल गर्मियों में रोम में डायमंड लीग में (ट्रैक पर 5000 मीटर से अधिक) अच्छी तरह से दौड़ा था लेकिन पेरिस में एक और रेस के बाद के बाद पिंडली में समस्या आ गई थी।"

प्री-रेस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा, "जब मैं यूजीन (विश्व खिताब की रक्षा के लिए) गया तो मुझे अच्छा नतीजा नहीं मिला, लेकिन अब सब कुछ बेहतर है।"

सिर्फ दो हफ्ते पहले, एड्रिस ने जुलाई में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के बाद अपनी पहली रेस में हिस्सा लिया था और इटली के ट्रेंटो के हाई क्वालिटी फील्ड में मनोबल बढ़ाने वाली जीत हासिल की थी।

अब उनका लक्ष्य भारत में अब तक का सबसे तेज हाफ मैराथन समय निकालना है और 2020 में अपने हमवतन एमेडवर्क वालेलेगन द्वारा बनाए गए 58:53 मिनट के कोर्स रिकॉर्ड को तोड़ना है। इसके बदले एड्रिस को 27,000 अमेरिकी डालर का प्रथम पुरस्कार औऱ 12,000 बोनस के तौर पर मिलेगा।

रविवार को एड्रिस को चुनौती देने वालों में केन्या के फेलिक्स किपकोच और इथियोपिया के चाला रेगासा होंगे, जो क्रमशः 58:57 मिनट और 59:10 मिनट के व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय के साथ फील्ड में दूसरे और तीसरे सबसे तेज पुरुष होंगे।

पिछले महीने कोपेनहेगन हाफ मैराथन में 59:07 मिनट समय के साथ तीसरे स्थान पर रहने के बाद किपकोच ने लंबे समय तक चोट से जूझने के बाद फॉर्म में वापसी की है।

रेगासा डेनमार्क की राजधानी में छठे स्थान पर रहे लेकिन वह किपकोच से सिर्फ छह सेकंड पीछे थे।

रेगासा ने कहा, "मुझे इस कोर्स के बारे में जानकारी थी, और मुझे यह कोर्स पसंद है। मुक्तार की तरह, मैं यहां व्यक्तिगत रूप से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने आया हूं।"

रेगासा ने खुलासा किया कि दिल्ली में रेस के लिए उनके इतने उत्साही होने का एक कारण यह था कि वह फिल्मों में भारत को देखकर इस देश से मोहित हो गए हैं।

इसी तरह का एक खुलासा करते हुए केन्या की इरिन चेप्टाई, जो इस साल मई में भारत में रेस आयोजक प्रोकैम इंटरनेशनल द्वारा आय़ोजित टीसीएस वर्ल्ड 10K बेंगलुरु की विजेता हैं - ने बताया कि उसका ट्रैक करियर अंत के करीब आ गया है।

चेप्टाई ने कहा, "अगले साल मैं अपना पहला मैराथन दौड़ना चाहती हूं और इसलिए यह रेस उसके लिए तैयारी का माध्यम बनेगा है।" चेप्टाई 2017 विश्व क्रॉस कंट्री चैंपियन हैं और अंतरराष्ट्रीय इलीट वर्ग के सबसे तेज समय वाली महिला हैं। 66:43 मिनट उनका व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय है।

चेप्टाई की मुख्य प्रतिद्वंद्वी इथियोपिया की लेमलेम हैलू हो सकती हैं, जो 2022 विश्व इंडोर 3000 मीटर चैंपियन है। वह अब तक चार मील से अधिक नहीं दौड़ी हैं लेकिन इस बार वह दिल्ली में मैराथन में डेब्यू करेंगी।

हेलू ने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो, मैं ट्रैक की तुलना में सड़कों पर ट्रेनिंग का अधिक आनंद ले रही हूं, जो बहुत कठिन है। इस तरह की रेस के लिए प्रशिक्षण बहुत अधिक आराम से होता है।" हेलू ने स्वीकार किया कि वह लगभग अनजान कोर्स पर अपने कदम रखते हुए थोड़ी घबराई हुई थीं।

दुर्भाग्य से, पूर्व निर्धारित कार्यक्रम में घोषित युगांडा के जैकब किप्लिमो ने, जो कि मौजूदा विश्व हाफ मैराथन चैंपियन हैं, हैमस्ट्रिंग की मामूली चोट के कारण वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन 2022 से अपना नाम वापस ले लिया है।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it