Begin typing your search above and press return to search.

खेलो इंडिया

खेलो इंडिया यूथ गेम्स में हरियाणा का दबदबा कायम, अंतिम दिन कुश्ती में जीते चार स्वर्ण पदक

हरियाणा के पहलवानों ने दांव पर लगे पांच में से चार स्वर्ण पदक जीतकर बुधवार को अंतिम दिन अपने राज्य को एक बार फिर शीर्ष पर पहुंचा दिया

Pulkit Wrestler
X

पहलवान पुल्कित (नीली पोशाक़ में)

By

Amit Rajput

Published: 9 Jun 2022 11:10 AM GMT

हरियाणा के पंचकूला में आयोजित खेलो इंडिया यूथ गेम्स में मेजबान राज्य हरियाणा का दबदबा जारी है। हरियाणा के पहलवानों ने दांव पर लगे पांच में से चार स्वर्ण पदक जीतकर बुधवार को अंतिम दिन अपने राज्य को एक बार फिर शीर्ष पर पहुंचा दिया। कुश्ती के अलावा मेजबान टीम ने ट्रैक एवं फील्ड में दो और स्वर्ण पदक जीते। हरियाणा की टीम इस प्रदर्शन की बदौलत 30 स्वर्ण, 23 रजत और 33 कांस्य पदक जीतकर महाराष्ट्र (26 स्वर्ण, 25 रजत, 22 कांस्य) को पछाड़ने में सफल रही। महाराष्ट्र की टीम अंतिम दिन सिर्फ एक स्वर्ण पदक जीत सकी।

हरियाणा के लिए तीन स्वर्ण पदक पुल्कित (लड़कियों के 65 किग्रा), साहिल (लड़कों के 92 किग्रा ग्रीको रोमन) और सागर जगलान (लड़कों के 80 किग्रा फ्रीस्टाइल) ने जीतकर कुश्ती में पदकों की संख्या को 16 स्वर्ण, 10 रजत और नौ कांस्य पदक तक पहुंचाया। हरियाणा के बाद महाराष्ट्र कुश्ती में तीन स्वर्ण के साथ दूसरे स्थान पर रहा। वैभव पाटिल ने लड़कों के फ्रीस्टाइल 55 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता।

दिन की अन्य स्पर्धाओं में हरियाणा की भारोत्तोलक ज्योति यादव ने लड़कियों के 76 किग्रा वर्ग में कुल 178 किग्रा वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीता। वही भारोत्तोलन में अन्य स्वर्ण पदक असम के सुदित्य बरूआ (लड़कों के 89 किग्रा वर्ग) और पंजाब के दिलबाग सिंह (लड़कों के 96 किग्रा वर्ग) ने जीते।

ट्रैक एवं फील्ड में राजस्थान की किरण ने चक्का फेंका में अपनी प्रतिद्वंद्वियों पर तीन मीटर से अधिक की बढ़त के साथ एथलेटिक्स में अपने राज्य के लिए दूसरा स्वर्ण पदक जीता। वही अंबाला में तैराकी प्रतियोगिता में कर्नाटक का दबदबा रहा। कर्नाटक ने तैराकों ने चार स्वर्ण पदक जीते और इस दौरान तीन रिकॉर्ड बनाए। टीम ने ट्रैक एवं फील्ड में भी दो स्वर्ण पदक के साथ अंतिम दिन छह स्वर्ण जीते।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it