Begin typing your search above and press return to search.

कबड्डी

Pro Kabaddi League Match 104: अंतिम रेड पर थलाइवाज ने गुजरात को हराया, अंक तालिका में पांचवें स्थान पर पहुंचे

सीजन के 104वें मैच में थलाइवाज ने गुजरात पर 42-39 के अंतर से जीत हासिल की

Tamil Thalaivas vs Gujarat Giants
X

तमिल थलाइवाज बनाम गुजरात जाएंट्स

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-11-28T16:04:18+05:30

तमिल थलाइवाज ने अंतिम रेड तक खिंचे मैच में गुजरात जाएंट्स को हराकर वीवो प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के नौवें सीजन की अंक तालिका में पांचवां स्थान हासिल कर लिया है। गाचीबोवली इंडोर स्टेडियम में रविवार को खेले गए सीजन के 104वें मैच में थलाइवाज ने 42-39 के अंतर से जीत हासिल की।

थलाइवाज अंतिम 10 मिनट तक 8 अंक के अंतर से आगे थे लेकिन गुजरात ने शानदार वापसी करते हुए जीत के लायक स्थिति कायम की लेकिन अंतिम पलों में डिफेंस की गलती के कारण मैच उसके हाथ से निकल गया। थलाइवाज के लिए अजिंक्य पवार (12) और नरेंदर (13) ने बेहतरीन प्रदर्शन किया।

गुजरात के लिए प्रतीक दहिया (10) ने सुपर-10 लगाया और अंतिम पलों में चंद्रन रंजीत (7) ने अपनी चमक दिखाकर गुजरात की वापसी कराई लेकिन ये अपनी टीम को सीजन की 11वीं हार से नहीं बचा सके।

बहरहाल, नरेंदर ने तीन रेड में चार अंक लेकर थलाइवाज को अच्छी शुरुआत दिलाई। तीन मिनट के खेल के बाद थलाइवाज 6-2 से आगे थे। चौथी रेड पर हालांकि वह लपक लिए गए। थलाइवाज के लिए सुपर टैकल आन था लेकिन अजिंक्य और अर्पित ने राकेश को सुपर टैकल कर स्कोर 9-5 कर दिया।

तीन के डिफेंस में प्रतीक रेड पर आए लेकिन साहिल ने उनका शिकार कर थलाइवाज को 6 की लीड दिला दी। इसके बाद गुजरात ने लगातार दो अंक के साथ थलाइवाज को आलआउट की ओर धकेला और फिर उसे अंजाम देकर स्कोर 13-15 कर दिया।

आलइन के बाद थलाइवाज ने सात अंक लिए जबकि जाएंट्स को चार अंक मिले। नरेंदर टैकल की गलती करते हुए दो बार आउट हुए लेकिन फिर वह रेड के दौरान फार्म में दिखाई देने लगे। इधर, गुजरात के लिए प्रतीक लगातार अंक ले रहे थे। ऑल आउट होने के बावजूद पहला हाफ 24-20 से थलाइवाज के नाम रहा।

ब्रेक के बाद नरेंदर ने अपना 10वां सुपर-10 पूरा किया। थलाइवाज की चार की लीड बरकरार थी। तीन के डिफेंस में अजिंक्य रेड पर गए और एक खिलाड़ी का शिकार कर गुजरात को पहली बार ऑल आउट की ओर धकेला, जिसे थलाइवाज ने जाया नहीं होने दिया और अपनी लीड बढ़ाकर 30-22 कर ली।

आलइन के बाद थलाइवाज के डिफेंस ने पहली ही रेड पर प्रतीक को डैश कर दिया। इसी बीच नरेंदर ने मल्टी प्वाइंट रेड के साथ फासला 10 का कर दिया। नरेंदर रेड में अब तक सिर्फ एक बार आउट हुए हैं। 10 मिनट बचे थे और थलाइवाज ने अपनी लीड को लगातार 8 या उससे अधिक बनाए रखा था।

गुजरात ने इसके बाद लगातार दो अंक लेकर फासला 7 का किया, जिससे उसे इस मैच से कम से कम एक अंक मिल सकते हैं। पांच मिनट बचे थे और स्कोर 37-30 था। गुजरात को वापसी की तलाश थी और थलाइवाज इसी फासले को बनाए रखना चाहते थे।

सुपर सब के तौर पर आए चंद्रन रंजीत ने लगातार दो अंक लेकर फासला 5 का कर दिया। नरेंदर ने इसके बाद एक अंक लिया लेकिन फिर रंजीत ने सुपर रेड के साथ फासला 3 का कर दिया। नरेंदर ने फासले को 4 का किया लेकिन प्रतीक ने इसे दो का कर दिया।

थलाइवाज के लिए सुपर टैकल आन था। प्रतीक ने एक अंक लेकर फासला 1 किया लेकिन थलाइवाज ने एक अंक लेकर फासला 2 कर दिया। अंतिम मिनट में स्कोर 39-38 से थलाइवाज के पक्ष में था और अजिंक्य की रेड पर दो अंक के साथ लीड 3 कर दी।

थलाइवाज को हालांकि ऑल आउट कर गुजरात मैच जीत सकते थे लेकिन प्रतीक सिर्फ एक अंक लेकर लौटे। स्कोर 39-41 था। नौ सेकेंड बचे थे और अजिंक्य ने संदीप का शिकार कर अपनी टीम को तीन अंक से मैच जिता दी। इस जीत ने थलाइवाज को पांचवें स्थान पर पहुंचा दिया है।

Next Story
Share it