शुक्रवार, अक्टूबर 30, 2020
होम कबड्डी वीवो प्रो कबड्डी सीज़न-7: 43वें मैच में यू मुम्बा ने पटना पायरेट्स...

वीवो प्रो कबड्डी सीज़न-7: 43वें मैच में यू मुम्बा ने पटना पायरेट्स को 34-30 से हराकर चौथे पायदान पर पहुंचे

शुक्रवार को एका एरेना के ट्रांसस्टेडिया में वीवो प्रो कबड्डी सीज़न-7 के 43वें मैच में यू मुम्बा ने पटना पायरेट्स को 34-30 से मात दे दी। यू मुम्बा के लिए मैच के हीरो रहे रोहित बलियान जिन्होंने कुल 9 प्वाइंट्स हासिल किए लेकिन उनकी आख़िरी रेड (सुपर रेड) ने ही मुम्बा को जीत दिलाई। अतुल एम एस ने भी 8 रेड प्वाइंट्स हासिल किए जबकि संदीप नरवाल ने ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए 6 अंक हासिल किए (3 रेड, 3 टैकल)। पटना की तरफ़ से परदीप नरवाल और मोहम्मद इसमाइल को 6-6 अंक हासिल हुए।

मैच की शुरुआत पटना पायरेट्स ने शानदार अंदाज़ में की थी जब स्टार रेडर परदीप नरवाल ने अपनी पहली ही रेड में सुरेंदर सिंह को टच करते हुए अपनी बेहतरीन फ़ॉर्म का संकेत दे दिया था। परदीप की प्रो कबड्डी इतिहास में ये 700वीं सफल रेड थी। इसके बाद पटना का डिफ़ेंस भी रंग में नज़र आ रहा था और य मुम्बा के युवा रेडर अर्जुन देशवाल को जयदीप ने टैकल करते हुए पटना की बढ़त 2-0 कर दी थी। पटना एक समय 5-2 से आगे था और यू मुम्बा के सिर्फ़ दो खिलाड़ी ही कोर्ट पर थे, लेकिन मैच का टफ़ मोमेंट तब आया जब परदीप नरवाल को संदीप नरवाल ने सुपर टैकल करते हुए मुम्बा को मैच में वापसी दिलाई। संदीप नरवाल ने इन दो अंकों के साथ अपने 500 प्वाइंट्स भी पूरे कर लिए थे। परदीप के बाहर जाते ही मुम्बा का जोश वापस आ चुका था। अब एक के बाद एक प्वाइंट लेते हुए यू मुम्बा न सिर्फ़ ऑलआउट से बची बल्कि पटना पाइरेट्स पर बढ़ी बढ़त बना चुकी थी। नतीजा ये हुआ मैच के 17वें मिनट में पटना पायरेट्स ऑलआउट हो गई। हाफ़ टाइम तक यू मुम्बा ने 22-9 से पटना पर बढ़त बना ली थी। पहले हाफ़ में 8.24 मिनट तक परदीप कोर्ट से बाहर रहे और यू मुम्बा की तरफ़ से 13 रेड प्वाइंट्स आए थे। पहले हाफ़ में दोनों टीमों में यही बड़ा फ़र्क़ था, परदीप बनाम फ़ज़ल अत्राचली की इस लड़ाई में फ़ज़ल एक बार फिर फ़ज़ेल ने परदीप को टैकल किया और उनपर अपनी बढ़त बरक़रार रखी थी।

हालांकि दूसरे हाफ़ की शुरुआत पटना पायरेट्स के लिए बेहतरीन रही पहले विकास जगलान की जगह कोर्ट पर आए रविंदर ने अर्जुन देशवाल का सुपर टैकल किया और फिर मोहम्मद इसमाइल ने अपनी अगली रेड में दो रेड प्वाइंट्स लाते हुए स्कोर को 22-13 करते हुए वापसी कराई, पटना का मनोबल एक बार फिर बढ़ गया था और दूसरे हाफ़ में एक अलग अंदाज़ में पटना के पायरेट्स खेलते हुए नज़र आ रहे थे। 30वें मिनट में पटना ने यू मुम्बा को ऑलआउट करते हुए अब स्कोर 26-21 कर दिया था, यानी मैच किसी भी तरफ़ जा सकता था। मैच का टर्निंग प्वाइंट 37वें मिनट में मोहम्मद इसमाइल ने अपनी डू और डाई रेड में फज़ल का शिकार करते हुए स्कोर को 29-26 कर दिया था और आख़िरी तीन मिनट में अब पटना सिर्फ़ 3 अंकों से पीछे थी। इसमाइल यहीं नहीं रुके अपने अगले रेड में भी इसमाइल ने लेफ़्ट कॉर्नर पर किक लगाते हुए एक और टच प्वाइंट लिया और पटना को अब सिर्फ़ दो अंकों के फ़ासले तक ला दिया था।

आख़िरी डेढ़ मिनट में यू मुम्बा के पास सिर्फ़ दो खिलाड़ी ही कोर्ट पर थे लेकिन डू और डाई रेड में रोहित बलियान ने नीरज का शिकार करते हुए यू मुम्बा की बढ़त बरक़रार रखी थी। और इसके बाद अपनी अगली रेड में रोहित बलियान ने जयदीप को भी शिकार बनाते हुए यू मुम्बा को 31-28 से आगे रखा। आख़िरी मिनट में परदीप ने अपनी रेड में सुरेंदर को शिकार बनाया, सुरेंदर इस मैच में छठी बार आउट हुए थे और अपना खाता भी नहीं खोला। परदीप ने अपनी एक और रेड में संदीप नरवाल को भी टच करते हुए स्कोर को 31-30 कर दिया था लेकिन अब महज़ 15 सेकंड्स बचे थे और आख़िरी रेड रोहित बलियान की थी। जिसमें हादी ओशतोरोक ने बलियान को टैकल करने की अपील की लेकिन अंपायर ने न सिर्फ़ इसे नकारा बल्कि रोहित बलियान की रेड को सुपर रेड करार देते हुए तीन अंक दिए। रोहित की इस रेड के साथ ही यू मुम्बा ने 34-30 से मुक़ाबला जीत लिया।

य मुम्बा की पटना पायरेट्स पर ये लगातार तीसरी जीत है, आख़िरी बार पटना को प्रो कबड्डी सीज़न 4 में जीत मिली थी। इसके बाद से लगातार यू मुम्बा पटना से जीतती आ रही है। इस जीत के साथ ही यू मुम्बा अब 8 मैचों में 23 अंकों के साथ चौथे नंबर पर आ गई है जबकि एक अंक लेने के बाद पटना पायरेट्स भी 10 से 9वें पायदान पर पहुंच गई है।

पटना पायरेट्स का अगला मुक़ाबला 22 अगस्त को चेन्नई में बंगाल वॉरियर्स के ख़िलाफ़ होगा जबकि 19 अगस्त को यू मुम्बा की अगली टक्कर चेन्नई में ही हरियाणा स्टीलर्स से होगी।