गुरूवार, सितम्बर 24, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 119: इतिहास के सबसे हाई स्कोरिंग मैच में पुनेरी...

प्रो कबड्डी मैच 119: इतिहास के सबसे हाई स्कोरिंग मैच में पुनेरी से हारकर तेलुगू भी प्ले-ऑफ़्स की रेस से बाहर

गुरुवार को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के मैच नंबर 119 में पुनेरी पलटन ने तेलुगू टाइटन्स को 53-50 से शिकस्त दे दी। प्रो कबड्डी इतिहास का ये मुक़ाबला सबसे हाई स्कोरिंग रहा, इससे पहले प्रो कबड्डी में किसी एक मैच में सबसे ज़यादा 102 अंक आए थे लेकिन इस मैच में दोनों टीमों का टोटल 103 रहा। पुनेरी के लिए इस मैच में जीत के हीरो रहे कप्तान सुरजीत सिंह जिन्होंने हाई फ़ाइव के साथ 7 टैकल प्वाइंट्स लिए। मनजीत ने भी सुपर-10 पूरा किया जबकि युवा सुशांत साइल (9 रेड प्वाइंट्स और 2 टैकल प्वाइंट्स) ने कुल 11 प्वाइंट्स लिए। तेलुगू टाइटन्स की ओर से राकेश गौड़ा ने सुपर-10 के साथ 16 रेड प्वाइंट्स और एक टैकल प्वाइंट लिया तो आकाश अरसुल और क्रुष्णा मदाने ने अपने अपने हाई फ़ाइव पूरे किए। सिद्धार्थ देसाई पूरी तरह फ़्लॉप रहे और सिर्फ़ 3 रेड प्वाइंट्स ले सके, हालांकि उन्होंने अपने करियर में 400वां रेड प्वाइंट्स ज़रूर पूरा कर लिया।

EXCLUSIVE: ड्राइवर के बेटे से नवीन एक्सप्रेस बनने की कहानी, ख़ुद नवीन की ज़ुबानी

पहले हाफ़ में पुनेरी पलटन ने धमाकेदार अंदाज़ में मैट पर उतरे थे, पांचवें ही मिनट में तेलुगू टाइटन्स को पुनेरी ऑलआउट कर दिया था, और इसके बाद भी मैच में अपना दबदबा क़ायम रखते हुए 13वें मिनट में एक बार फिर टाइटन्स को ऑलआउट किया। 8 मिनट के अंदर दो बार ऑलआउट होने के बाद तेलुगू पूरी तरह से दबाव में थी, पुनेरी ने पहले हाफ़ में 4 बार सिद्धार्थ देसाई को टैकल किया। पुनेरी की ओर से हाफ़ टाइम तक सुशांत साइल ने बेहतरीन ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए 6 रेड प्वाइंट्स और 2 टैकल प्वाइंट्स ले लिए थे। वही पुनेरी के कप्तान सुरजीत सिंह ने अपना हाई फ़ाइव भी पूरा कर लिया था। हाफ़ टाइम तक पुनेरी पलटन ने तेलुगू टाइटन्स पर 31-16 की बड़ी बढ़त बना ली थी।

दूसरे हाफ़ की शुरुआत में सुशांत साइल ने सुपर रेड करते हुए तेलुगू के 4 खिलाड़ियों को शिकार बनाया, जिसके कुछ ही मिनटों बाद तेलुगू मैच में तीसरी बार ऑलआउट हो गए थे। हालांकि इसके बाद तेलुगू ने शानदार वापसी की और राकेश गौड़ा ने सुपर-10 करते हुए पुनेरी पलटन को मैच में पहली बार ऑलआउट कर दिया था। राकेश का शानदार फ़ॉर्म जारी था और उन्होंने कुछ ही देर बाद तेलुगू ने पुनेरी को दोबारा ऑलआउट कर दिया था। एक समय पुनेरी की बढ़त 22 अंक थी जो अब कम होकर 9 तक आ गई थी। मैच में अभी भी 6 मिनट बचे थे यानी तेलुगू मैच में लौट चुकी थी और इसका श्रेय जाता है राकेश गौड़ा को जिन्होंने अब तक 14 रेड प्वाइंट्स हासिल कर लिया था, तेलुगू की ओर से डिफ़ेंस में आकाश अर्शुल ने भी 4 टैकल प्वाइंट्स लेते हुए तेलुगू की उम्मीदों को ज़िंदा रखा था। आख़िरी 4 मिनटों में स्कोर हो चुका था 48-43, यानी तेलुगू अब सिर्फ़ 5 अंक पीछे थी। लेकिन जब खेल में दो मिनट बचा था तभी इमाद ने सुपर रेड करते हुए तीन शिकार किए और तेलुगू की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। जैसे ही व्हिसल बजा पुनेरी ने मुक़ाबला 3 अंकों से अपने नाम कर लिया।

3 खिलाड़ी जिन्होंने प्रो कबड्डी इतिहास में एक मैच में बनाए 30+ रेड प्वाइंट्स

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में पुनेरी पलटन की तेलुगू टाइटन्स पर ये 14 मैचों में सातवीं और इस सीज़न में लगातार दूसरी जीत है। तेलुगू टाइटन्स की इस हार ने उन्हें प्ले-ऑफ़्स की रेस से बाहर कर दिया है, पुनेरी पलटन भी हालांकि प्ले-ऑफ़्स से पहले ही बाहर हो चुके हैं लेकिन फ़िलहाल इस जीत के साथ वह 8वें स्थान पर आ गए हैं।

शुक्रवार यानी 4 अक्टूबर को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में दो मुक़ाबले खेले जाएंगे जहां पहले मैच में जयपुर पिंक पैंथर्स और बेंगलुरु बुल्स की टक्कर होगी तो दूसरे और हरियाणा लेग के आख़िरी मुक़ाबले में मेज़बान हरियाणा स्टीलर्स के सामने तेलुगू टाइटन्स की चुनौती होगी।