शुक्रवार, सितम्बर 25, 2020
होम कबड्डी परदीप नरवाल के 48वें सुपर-10 के बावजूद 3 बार की चैंपियन पटना...

परदीप नरवाल के 48वें सुपर-10 के बावजूद 3 बार की चैंपियन पटना की हार, बंगाल दूसरे स्थान पर

बुधवार को चेन्नई के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए पहले मैच में बंगाल वॉरियर्स ने तीन बार के चैंपियन पटना पायरेट्स को 35-26 से हरा दिया। इस मैच में जीत के नायक रहे बंगाल के मनींदर सिंह (10 रेड प्वाइंट्स) जिन्होंने वीवो प्रो कबड्डी में अपना 26वां सुपर-10 हासिल किया। रिंकू नरवाल ने हाई फ़ाइव करते हुए 5 टैकल प्वाइंट्स लिए तो मैच में सबसे ज़्यादा रेड प्वाइंट्स परदीप नरवाल के ही नाम रहा, उन्होंने 12 रेड प्वाइंट्स लेते हुए वीवो प्रो कबड्डी में अपना 48वां सुपर-10 बना चुके थे लेकिन ये भी पटना को इस सीज़न की छठी हार से बचा  नहीं पाया।

मैच की शुरुआत पटना पायरेट्स ने बेहतरीन अंदाज़ में की थी, जब स्टार रेडर परदीप नरवाल ज़बर्दस्त लय में नज़र आ रहे थे। परदीप ने अपनी पहली 4 रेड में प्वाइंट्स लाते हुए पटना को बंगाल वॉरियर्स पर बढ़त दिला दी थी। परदीप का अच्छा साथ निभा रहे थे मोहम्मद इसमाईल, लेकिन जैसै जैसे पहला हाफ़ आगे बढ़ा बंगाल ने वापसी की राह पकड़ ली थी। मनीदंर सिंह और के परपंजन ने जहां रेडिंग में प्वाइंट्स लाए तो जीवा ने टैकल में दो अंक लिया। पटना एक समय ऑलआउट के क़रीब आ चुका था लेकिन मोनू के सुपर टैकल और पूरण सिंह की रेड ने उन्हें हाफ़ टाइम तक ऑलआउट से बचा लिया था। हाफ़ टाइम तक बंगाल 15-14 से आगे था, पहले हाफ़ में परदीप ने 3 बार रिंकू को अपना शिकार बनाया।

दूसरे हाफ़ की शुरुआत में ही पटना पायरेट्स ऑलआउट हो गए और बंगाल को अब 19-14 की बढ़त मिल गई थी। पटना की मुश्किलें तब और बढ़ गईं जब 9 मिनट बाद पटना फिर ऑलआउट हो गई, इस दौरान यानी दूसरे हाफ़ में पटना को सिर्फ़ एक अंक मिला था। बंगाल ने अब 28-15 की मज़बूत बढ़त बना ली थी और यहां से पटना की वापसी कठिन दिखाई दे रही थी। दूसरी तरफ़ मनीदंर सिंह ने अपना सुपर-10 भी कर लिया था तो रिंकू नरवाल ने हाई फ़ाइव भी बना लिया था। हालांकि आख़िरी लम्हों में परदीप ने शानदार रेडिंग करते हुए अपना सुपर-10 भी हासिल कर लिया था और बंगाल को पहली बार ऑलआउट भी किया लेकिन ये सिर्फ़ हार के अंतर को ही कम करने वाला था। जैसे ही व्हिसल बजी, पटना पायरेट्स 9 अंकों से मैच हार चुका था। बंगाल की पटना के ख़िलाफ़ वीवो प्रो कबड्डी में ये 16 मैचों में सिर्फ़ चौथी जीत है। इस जीत के बाद अब बंगाल के 9 मैचों में 33 अंक हो गए हैं और वह दूसरे स्थान पर आ गए हैं। जबकि इस हार के बाद पटना के अब 9 मैचों में 17 अंक ही हैं और वह आख़िरी पायदान पर है।