बुधवार, अक्टूबर 28, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 86: पटना पायरेट्स ने जयपुर पिंक पैंथर्स पर दर्ज...

प्रो कबड्डी मैच 86: पटना पायरेट्स ने जयपुर पिंक पैंथर्स पर दर्ज की रोमांचक जीत, परदीप का लगातार पांचवां सुपर-10

गुरुवार को कोलकाता के नेताजी सुभाषचंद्र बोस इन्डोर स्टेडियम में खेले गए 86वें मैच में पटना पायरेट्स ने जयपुर पिंक पैंथर्स को हराते हुए अंक तालिका में नंबर-9 पर पहुंच गए हैं। पटना के लिए इस मैच में हीरो रहे परदीप नरवाल जिन्होंने लगातार पांचवां सुपर-10 करते हुए 14 रेड प्वाइंट्स हासिल किए। परदीप का शानदार साथ निभाया वापसी कर रहे जैंग कुन ली (8 रेड प्वाइंट्स) और डिफ़ेंस में नीरज कुमार ने भी हाई फ़ाइव करते हुए 6 टैकल प्वाइंट्स लिए। जयपुर के लिए सुशील गुलिया ने सबसे ज़्यादा 8 रेड प्वाइंट्स लिया जबकि संदीप ढुल ने हाई फ़ाइव किया। परदीप का ये प्रो कबड्डी इतिहास में 100वां मुक़ाबला था।

पहले हाफ़ में मुक़ाबला बेहद रोमांचक रहा, जब दोनों ही टीमों ने अपने अपने ऑलआउट टाले, शुरुआत पटना पायरेट्स ने बेहतरीन की और इसकी ज़िम्मेदारी परदीप नरवाल ने उठाई थी। जिन्होंने सुपर रेड में 3 शिकार करते हुए जयपुर को ऑलआउट के क़रीब ला दिया था। लेकिन पहले सुशील गुलिया और फिर अकेले बचे नितिन रावल ने न सिर्फ़ टीम को ऑलआउट से बचाया बल्कि अब पटना को ऑलआउट के कगार पर ला दिया था। पर एक बार फिर मैच घूमा और पटना की तरफ़ से हुए सुपर टैकल ने मैच में पटना को वापस ला दिया। हाफ़ टाइम पर 15-14 से बढ़त ज़रूर जयपुर के पास थी लेकिन पटना भी दमदार खेल रहा था। पहला हाफ़ एक बार फिर परदीप के नाम रहा जिन्होंने 10 रेड में 7 रेड प्वाइंट्स हासिल किए।

दूसरे हाफ़ की शुरुआत में ही जयपुर की तरफ़ से एक के बाद एक दो सुपर टैकल हुए, पहले अमित हुडा ने परदीप नरवाल को सुपर टैकल किया और फिर संदीप ढुल ने मोनू को सुपर टैकल करते हुए जयपुर को अब पटना से 19-15 से आगे कर दिया था। परदीप लगातार कोर्ट से बाहर थे और दबाव पटना पर बनता जा रहा था। लेकिन तभी इस मैच में वापसी कर रहे जैन कुन ली ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए एक साथ दो शिकार किए और परदीप को रिवाईव करा दिया था। इसके बाद परदीप ने एक और टच प्वाइंट लेते हुए जयपुर को एक खिलाड़ी पर ला खड़ा किया था और वहां से निलेश सलुंके ने फिर अपनी टीम को ऑलआउट से बचाते हुए दो रेड प्वाइंट्स ले गए थे। हालांकि तुरंत बाद परदीप ने निलेश को शिकार बनाते हुए अब फिर जयपुर को एक खिलाड़ी पर ला दिया था। 29वें मिनट में पहली बार जयपुर को पटना ने ऑलआउट किया और अब स्कोर 24-23 से जयपुर के पक्ष में था। 32वें मिनट में परदीप ने सुपर-10 पूरा करते हुए पटना को अब 25-24 से बढ़ा दिया था। मैच में अब 8 मिनटों का खेल बचा था और मुक़ाबला एक बार फिर कांटे का हो रहा था, इसी बीच संदीप ढुल ने अपना हाई फ़ाइव भी पूरा कर लिया और सीज़न में 54 टैकल प्वाइंट्स हासिल कर चुके थे। मैच बेहद रोमांचक हो रहा था और यहां से तीनों नतीजे संभव थे, लेकिन आख़िरी लम्हों में पटना से नीरज कुमार और जैन कुन ली भी ज़बर्दस्त खेलते हुए पटना को 3 अंकों की बढ़त दिला दी थी। लेकिन आख़िरी साढ़े तीन मिनट का जब खेल बचा था तभी सुशील गुलिया ने तीन अंकों की सुपर रेड लगाते हुए स्कोर 29-29 कर दिया था। लेकिन आख़िरी लम्हों में पटना ने धैर्य रखा और मैच अपने नाम कर लिया।

ये भी पढ़ें: कैसे पवन की आंधी पर भारी पड़ गया मनींदर का मैजिक ?

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में जयपुर पर पटना की ये 14 मैचों में ये 9वीं जीत है, और इस सीज़न में की पिंक पैंथर्स पर पहली। इस जीत के बाद अब अंक तालिका में 14 मैचों में 30 अंकों के साथ पटना लंबे अर्से के बाद 12 से 9वें पायदान पर आ गए हैं, एक अंक लेते हुए जयपुर ने भी अंक तालिका में 6ठा स्थान हासिल कर लिया है।

वीवो प्रो कबड्डी में शुक्रवार को रेस्ड डे रहेगा जबकि शनिवार यानी दिन दो मैच खेला 14 सितंबर से प्रो कबड्डी का कारवां पुनेरी पलटन के होमलेग यानी पुणे में पहुंच जाएगा। जहां पहले दिन दो मुक़ाबले खेले जाएंगे, पहले मैच में मेज़बान पुनेरी पलटन के सामने गुजरात फ़ॉर्च्यूनजाएंट्स की चुनौती होगी तो दूसरे मुक़ाबले में तमिल थलाइवाज़ की टक्कर हरियाणा स्टीलर्स से होगी।